February 27, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 6 सितबंर 2020। श्रीडूंगरगढ़ तहसील का गांव सांवतसर आज पूरे जिले में छाया हुआ है इस गांव ने राजस्थान पुलिस सेवा में दो थानेदार एक साथ देकर क्षेत्र के युवाओं के लिए प्ररेणा पेश की है। श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र में तीन सलेक्शन हुए है जिनमें दो सांवतसर गांव से है और एक उदरासर से है। सांवतसर के 22 वर्षीय नरेश विश्नोई ऑल राजस्थान 15वीं रैक पर और 26 वर्षीय अशोक कुमार धारणियां ने ऑल राजस्थान 32वीं रैंक हासिल की है। गांव उदरासर के प्रभुराम गोदारा ने भी ऑल राजस्थान 25 वीं रैंक हासिल की है। आज गांव सांवतसर में गांव का ही नहीं श्रीडूंगरगढ क्षेत्र का नाम रोशन करने वाले दोनों युवकों का सम्मान किया गया। सांवतसर गांव में शिक्षक व कांस्टेबल पद पर कई ग्रामीणों ने सलेक्शन लिया परन्तु गांव में कोई एसआई नहीं बना और अब एक साथ दो युवक यहां से सलेक्ट हुए है। आज गांव के एमएस मेमोरियल शिक्षण संस्थान में नरेश और अशोक का अभिनंदन समारोह रखा गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता गांव के सरपंच प्रतिनिधि धुड़ाराम धारणियां ने की और गांव के दोनों नौजवानों को शुभकामनाएं दी। संस्थान के स्टॉफ ने राजस्थानी अंदाज में गांव के गौरव दोनो युवकों को साफा बंधवाया और मालाऐं पहनाई। गांव के बुजुर्गों ने परंपरा का निर्वाह करते हुए दोनों युवकों को आशीर्वाद स्वरूप रूपए पैसे दिए जो दोनों युवकों ने अपने पास से रूपए मिला कर गांव की गौशाला में दान कर दिए। समारोह में स्कूल के प्रधानाचार्य रामरतन धारणियां ने बच्चों को प्रेरित करने वाले कई प्रसंग सुनाए। धारणियां ने कहा कि वो गांव जहां से नरेश और अशोक जैसे प्रतिभाएं निकलें वो गांव ही नहीं आस पास के गांवो के युवाओं में तन मन से पढने की अलख जगा देते है। कार्यक्रम से नरेश जब अपने घर पहुंचे तो उनकी दादी ने उनका तिलक किया और पोते को आशीर्वाद दिया। दादा पतराम विश्नोई ने गदगद भाव से उनका स्वागत किया। चार बहनों के इकलौते भाई नरेश के पिता किसनलाल विश्नोई का साया उनसे बचपन में ही छीन गया। परन्तु दादा पतराम, चाचा बाबूलाल, मनिराम, राजपाल, विजयपाल ने स्नेह से भतीजे का पालन पोषण किया। और इनके साथ ही संयुक्त परिवार में पले बढ़े नरेश ने ऑल राजस्थान 15वीं रैंक हासिल कर अपनी माता के संघर्ष को आज एक नया मुकाम दिया।नरेश की दादी ने अपने दिवंगत पुत्र को याद करते हुए कहा कि आज वे होते तो अपने बेटे को थानेदार के रूप में देखते। दादा-दादी ने नरेश की नजर भी उतारी।

सांवतसर के युवक अशोक कुमार धारणियां ने भी अपनी मेहनत से गांव के सफल युवाओं में अपना नाम स्वर्णिम अक्षरों में लिखवा लिया। पूरे क्षेत्र के युवाओं के सामने मिसाल रखी है। इंजीनियर ग्रेजुएट अशोक आज स्कूल में सम्मानित होने के बाद जब अपने घर पहुंचे तो माता-पिता बहन भाईयों ने उनका पलकें बिछाए तिलक का थाल सजा कर स्वागत किया। माता ने तिलक किया नजर उतारी और बेटे को आशीर्वाद दिया। अशोक थानेदार बन पिता ख्यालीराम धारणियां का सर गौरव से ऊंचा उठा दिया। अशोक ने 2016 में तैयारी प्रारम्भ की और ये उनकी दूसरी सरकारी नौकरी है। अशोक वर्तमान में अपनी सेंवाएं एलडीसी के रूप में पोलिटेक्निक कॉलेज हनुमानगढ़ में दे रहे है। अशोक व नरेश के घर में ही नहीं आज गांव में उत्सव का माहौल नजर आया। परिवार की खुशी तो जैसे समा ही नहीं रही थी और खुशी में नम आँखे भी भावों का सागर लिए दोनों को आशीर्वाद दे रही थी। अशोक के पिता ने नम आँखो से कहा कि हस्ताक्षर करने भी नहीं आते पर आज बेटा इस मुकाम पर पहुंचा है तो गर्व से सर ऊँचा उठ गया है।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। सांवतसर के नरेश व अशोक का गांव के एमएस शिक्षण संस्थान में अभिनंदन किया गया।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। नरेश विश्नोई के घर आने पर दादी ने तिलक कर मिठाई खिलाई और पोते की नजर उतारी।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। अशोक कुमार धारणियां के घर पहुंचने पर उनकी माता ने तिलक कर मिठाई खिलाई और नजर उतारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!