मोटापा ही नहीं मधुमेह और हृदय रोग भी दूर रखता है संतरे का जूस


अगर आप भी लंबी आयु और स्वस्थ जीवन की चाह रखते हैं, तो अब से हर रोज संतरे के जूस का सेवन शुरू कर दें। शोधकतार्ओं ने पाया है कि दिन में दो-ढाई गिलास संतरे का जूस पीने से मोटापा दूर हो सकता है और इसके साथ ही इससे दिल के रोग और मधुमेह के होने का खतरा भी काफी कम हो जाता है।

लिपिड रिसर्च की पत्रिका में प्रकाशित निष्कषों के मुताबिक, शोधकतार्ओं द्वारा अपने एक हालिया शोध में संतरों और कीनू में पाए जाने वाले एक ऐसे तत्व की पहचान की है, जिसे नोबिलेटिन के नाम से जाना जाता है। शोध में पाया गया है कि यह रासायनिक यौगिक मोटापे को कम करने और इसके दुष्प्रभावों से छुटकारा दिलाने में काफी कारगर है।

कनाडा में स्थित वेस्टर्न यूनीवर्सिटी से इस अध्ययन के शोधकतार् मुरे हफ ने कहा, “हमने नोबिलेटिन के साथ प्रयोग करना शुरू किया। जिन चूहों में मोटापे के कई नकारात्मक लक्षण थे, इन्हें कम करने के लिए हमने नोबिलेटिन का इस्तेमाल किया और धमनियों की दीवारों के ऊपर और इसके अंदर वसा व कोलेस्टॉल के जमाव पर भी इसके प्रभाव को देखना शुरू किया।”

शोधकतार्ओं की टीम ने पाया कि जिन चूहों को उच्च वसा, उच्च कोलेस्ट्रॉल वाले भोजन के साथ नोबिलेटिन दिया गया, वे काफी दुबले पाए गए। इनमें इन्सुलिन प्रतिरोध के स्तर में भी कमी पाई गई और इनके खून में वसा भी उन चूहों की अपेक्षा कम पाया गया जिन्हें सिर्फ उच्च वसा, उच्च कोलेस्ट्रॉल युक्त भोजन दिया गया था। हालांकि नोबिलेटिन शरीर में किस तरह से काम करता है, इसके बारे में पता लगाना अभी बाकी है।

शोधकतार्ओं का ऐसा मानना है कि शायद यह रासायनिक यौगिक शरीर के उस क्षेत्र में प्रभावी है, जो हमारी शरीर में वसा का निधार्रण करता है।