May 26, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 9 जनवरी 2020। सरपंचाई के दंगल में जब हर और जबरदस्त प्रतिस्पर्धा देखने को मिल रही है वहीं श्रीडूंगरगढ़ की दो ग्राम पंचायतों ने पुरी पंचायत ही निर्विराध चुन कर आदर्श स्थापित कर दिया है। ग्राम पंचायत बाना एवं सूडसर में सरपंच सहित समस्त वार्ड पंच भी निर्विरोध ही चुने गए है। हालांकी दोनो ही गांवों में पहले ही गांव की आम सभा आयोजित होकर सर्वसम्मति पर सहमती बनी थी लेकिन गुरूवार को डमी नामांकन वापस ले लिए जाने के बाद ही दोनो गांवों में निर्विरोध सरपंच की विधिवत घोषणा हुई है। जांच के दौरान नामांकन खारीज नहीं हो जाए इस डर से दोनो ही ग्राम पंचायतों में दो दो नामांकन किए गए थे। गांव बाना में दो भाईयों रामरख बाना एवं पूनमचंद बाना ने नामांकन दाखिल किए थे एवं दोनो ही नामांकन सही पाए जाने के बाद पुनमचंद बाना ने अपना नाम वापस ले लिया और रामरख बाना को सरपंच घोषित किया गया। इसी प्रकार गांव सूडसर में देवरानी-जेठानी मंजूदेवी और ममता देवी ने नामाकंन किया था। जांच में सही पाए जाने पर मंजूदेवी ने नामांकन वापस ले लिया और ममता देवी को सरपंच घोषित किया गया। हालांकी इन दोनो ही गांवों में वार्ड पंचों पर चुनाव होने थे क्योंकि गांव बाना में 13 वार्डों पर 20 प्रत्याशियों ने एवं गांव सूडसर के 5 वार्डों मे 8 प्रत्याशियों ने पर्चे भरे थे। लेकिन गुरूवार को ग्रामीणों ने आपसी सहमती से नाम वापस लेने की कार्यवाही करवाई एवं दोनो पंचायतों में सभी वार्ड पंच भी निर्विरोध ही घोषित हुए है।

ग्राम पंचायत सूडसर की पहली निर्विरोध सरपँच श्रीमती ममता देवी मेघवाल।
ग्राम पंचायत बाना में निर्विरोध बने सरपँच ओर समस्त वार्ड पंच

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!