February 23, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 29 नवम्बर 2020। तहसील में एक सरकारी प्राथमिक विद्यालय ऐसा है जहां लॉकडाउन के बाद से अब तक एक बार भी सफाई नहीं हुई और पूरा स्कूल बदहाली का शिकार हो गया है। गांव सोनियासर में शहीद सिपाही हेतराम गोदारा विद्यालय के इस हाल पर ग्रामीणों ने आक्रोश प्रकट करते हुए कहा कि प्राथमिक स्कूलों के नहीं खुलने से और यहां नियुक्त स्टॉफ द्वारा सुध नहीं लिए जाने से ये कचरे के ढेर स्कूल में लग गए है। ग्रामीणों का कहना है कि यहां तीन से चार शिक्षक नियुक्त है और लॉकडाउन लगने से अब तक इस विद्यालय की सार संभाल नहीं हुई है। विद्यालय में कचरे के ढेर लग गए है और ग्रामीणों का आरोप है कि विद्यालय के कर्मचारियों ने शहीद के नाम का भी अपमान किया है। ग्रामीणों का कहना है कि सरकार ने सभी स्कूलों में अध्यापकों की ड्यूटी लगा रखी है तो यहां अध्यापक आकर देख रेख क्यों नहीं करते है और स्कूल धूल फांक रहा है। ग्रामीणों सहित गांव के जागरूक युवा भंवरलाल जोशी ने खासी नाराजगी प्रकट करते हुए विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया कि शिक्षा के मंदिर में गंदगी के ढेर विभाग के कर्मचारियों की वजह से ही लगें है। ग्रामीण स्कूल में तैनात स्टॉफ के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कहते हुए बताया कि विभागीय अधिकारियों से बात करने का प्रयास भी किया परन्तु कोई सुनवाई नहीं हुई है। ग्रामीणों ने विभाग पर आरोप लगाते हुए सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने की बात भी कही।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। ग्रामीणों का आरोप लॉकडाउन लगने से अब तक स्कूल की सफाई एक बार भी नहीं हुई।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। पूरे परिसर में कचरे के ढ़ेर लग गए है और ग्रामीणों में रोष जताया है।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। गांव सोनियासर का प्राथमिक विद्यालय।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। स्कूल की बदहाली से नाराज ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि विभाग शहीद के नाम का भी सम्मान नहीं कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!