April 23, 2024

श्रीडूंगरगढ टाइम्स 28 दिसम्बर 2019। 15 जनवरी से देश मे ‘ वन नेशन – वन राशनकार्ड’ स्कीम लागू हो जाएगी। उसके बाद लाभार्थी देश में कहीं भी पीओएस मशीन पर बायोमेट्रिक प्रमाणन के बाद अपने राशन कार्ड का उपयोग करके खाद्य सुरक्षा का लाभ उठा सकते हैं। इसके लिये लाभार्थी को बिना कोई अतिरिक्त कागजी कार्रवाई के पोर्टेबिलिटी का लाभ प्राप्त कर सकेंगे और न ही प्रवास के राज्य में नए राशन कार्ड के लिए आवेदन करने की कोई जरूरत नहीं है।
देश में कुल 79 करोड़ लोगों के पास राशन कार्ड हैं। शुरुआत मे 12 राज्यों में वन नेशन वन राशन कार्ड से 35 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा। यह स्कीम जून 2020 में कुल 20 राज्यों में ये लागू हो जाएगा। इस योजना से एक राज्य से दूसरे राज्य में जाकर काम करने वाले कम आमदनी वाले लोगों को सबसे ज्यादा फायदा मिलेगा। ये आधार लिंक कार्ड हैं। ई प्वाइंट ऑफ सेल के ज़रिए ये फायदा मिलेगा। वन नेशन वन राशन कार्ड को संभव बनाने के लिए 880 करोड़ रुपए कंप्यूटराइजेशन पर खर्च हो रहे हैं।
इन राज्यों के राशन कार्ड होल्डर किसी भी राज्य में अपना राशन ले सकेंगे।
आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, गुजरात, महाराष्ट्र, हरियाणा, राजस्थान, कर्नाटक, केरल, गोवा, मध्य प्रदेश, त्रिपुरा, झारखंड।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!