February 23, 2024

श्रीडूंगरगढ टाइम्स 28 जुलाई 2020। पूरे बीकानेर जिले सहित श्रीडूंगरगढ मे इस बार टिडिडयों का जबरदस्त प्रकोप छाया है। पूरी तहसील में बड़े बड़े दल खेतों में बैठे है और अब ये पीले रंग की टिडिडयां जहां डेरा डाल रही है वहीं ये करीब तीन दिन तक बैठी रहती है क्योंकि ये अब वंही अंडे दे रही है। क्षेत्र के गांव राजेडु में अंडो से लट के रूप में फाका निकल आया है जो फसलों का काल माना जाता है। कृषि विभाग को सूचना दे दी गई है और अब विभाग फाके से निपटने की कार्यवाही में जुट गया हेै। विभाग दिन में फाका मारने की व रात्रि में टिड्‌डी मारने की कार्यवाही कर रहा है। जहां तहसील में टिडि्डयों को मारा गया है वहां अब फाके की आंशका पैदा हो गयी है। ये टिडिडयां बारानी खेतों में तो कहर बरपा रही है। बाजरा, मोठ, ग्वार, मूंग को उगते हुए ही चट कर रही है वहीं यह नरमें की फसल को भी खासा नुकसान पहुंचा रही है। टिडिडयां मूंगफली के लिए अधिक घातक साबित नहीं हो रही परन्तु अन्य सभी फसलों को व्यापक नुकसान पहुंचा रही है। टिडिडयों की तादात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि अब ये खेतों में ही नहीं बल्कि गांव सातंलेरा में सोमवार शाम घरों में भी घुस गयी। ग्रामीणों ने कहा कि टिड्डी घर की रसोई तक पहुंच गयी ये फसलों का क्या हाल करेगी।

विभाग ने यहां की नियंत्रण कार्यवाही-
श्रीडूंगरगढ टाइम्स। कृषि विभाग ने सोमवार रात रिड़ी, बाना, केऊ, कल्याणसर, धर्मास, जालबसर, धनेरू, नारसीसर, लोढेरा में टिड्डी नियत्रंण कार्यवाही की। विभागीय अधिकारी के रमेश भामू ने बताया कि गांव बापेऊ में राजेन्द्र डेलू, रिड़ी में पवन सारस्वत, धर्मास में ओम प्रकाश कुलड़िया, इन्दपालसर में राजूराम मेघवाल, बिग्गाबास रामसरा में रमेश कुमार बाना, लाढेरा में बलवीर भादू व पटवारी रामचंद्र चौधरी, नारसीसर में बलवीर भादू, केऊ में कृषि सहायक अधिकारी ऊपनी के जितेंद्र कुमार वर्मा, बाना में ओमप्रकाश बाना, कल्याणसर में परतनाथ, नोसरिया-मिंगसरिया-धनेरू में बनवारीलाल सैनी के नेतृत्व में टिड्डी दलों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए छिड़काव किया गया। विभाग ने अपील की है कि किसान शाम 5 बजे से 6 बजे अपने आस पास की सूचनाएं विभाग को देवें। जिससे रात्रिकालीन टिडडी नियत्रंण की कार्यवाही सुनियोजित ढंग से की जा सके।

नेताओं ने टिड्डी नियत्रंण संसाधनों को बढ़ाने की मांग की।
श्रीडूंगरगढ टाइम्स। खेतों में कहर बरपा रही टिडिडयों के किसानों को खासा नुकसान पहुंचा रही है। भारतीय किसान श्रमिक जनशक्ति युनियन राजस्थान के जिलाध्यक्ष भागीरथ ज्याणी ने सरकार से इस समस्या का शीघ्र समाधान करने की मांग की है। ज्याणी ने कहा कि किसानों को सरकार आन्दोंलन के लिए मजबूर नहीं करें और आंखे खोल कर किसानों की हालातों का जायजा लेवें। वहीं आरएलपी नेता दानाराम घिंटाला ने भी सरकार से हेलीकॉप्टर से छिड़काव करने की व्यवस्था करने की मांग की है।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। गांव सातलेरा में ग्रामीणों के घरों के अंदर रसोई तक पहुंच गई टिड्डियां। ( गौरीशंकर तावनियां)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!