April 13, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 30 मार्च 2020। क्षेत्र में कोरोना प्रभावित इलाकों से लोगों का आना बद्दस्तूर जारी है। पूरे जिले में प्रवासियों के पहुंचने का आंकडा श्रीडूंगरगढ़ में ही सबसे अधिक भयावह हो रहा है, क्योंकि यहां पर पहुंचने वाले 4000 लोगों की स्क्रिनिंग तो चिकित्सा विभाग कर चुका है एवं ना जाने कितने लोग बिना स्क्रिनिंग के ही चोरी छिपे अपने घरों तक पहुंच चुके है। रविवार रात भी क्षेत्र के गांव बिग्गाबास रामसरा में कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र भीलवाडा से पांच जने पहुंचें है। कर्फ्युग्रस्त भीलवाड़ा से ये लोग ना जाने कैसे निकल कर और ना जाने किन किन साधनों से होते हुए अपने गांव पहुंचे है एवं पहुंचने के बाद भी किसी प्रकार की सावधानी नहीं रखते हुए गांव में घूमते हुए सबसे मिलने लगे। इस पर गांव के जागरूक नागरिकों ने चिकित्सा विभाग को सूचना दी है एवं चिकित्सा विभाग की टीम ने गांव पहुंच कर इन पांचों की स्क्रिनिंग की है। ब्लाक सीएमएचओ डा श्रीमोहन जोशी ने बताया कि पांचों ही अभी तो पूर्णतया स्वस्थ है एवं सभी को घरों में ही एकांतवास में रहने को पाबंद किया गया है। राज्य में कोरोना से प्रभावित क्षेत्र भीलवाडा, जयपुर, जोधपुर, झुंझुनू आदि जगहों से सैंकडों लोग पहुंच चुके है। कोरोना प्रभावित क्षेत्रों से लोगों के आने के कारण श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र में खतरा बढ गया है एवं सभी को सावधान रहने की आवश्यकता है। क्षेत्रवासियों को चाहिए कि अधिकाधिक घरों में ही रहे एवं अत्यंत आवश्यक कार्य होने पर ही घरों से बाहर निकलें। घरों से बाहर निकलने के दौरान भी किसी को नहीं छूने, लोगों से एक मीटर से अधिक की दूरी रखने, सैनेटाईजर का उपयोग करने, घर पहुंच कर सबसे पहले हाथों को अच्छे से धोने आदि सावधानियां रखें।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। गांव बिग्गाबास रामसरा में रविवार देर रात भीलवाड़ा से पहुंचे प्रवासियों की स्क्रीनिंग करते चिकित्साकर्मी।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। गांव बिग्गाबास रामसरा में रविवार देर रात भीलवाड़ा से पहुंचे प्रवासियों की स्क्रीनिंग करते चिकित्साकर्मी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!