March 5, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 28 मार्च 2020। पुलिस एवं प्रशासन द्वारा लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए पूरजोर प्रयास किए जा रहे है लेकिन ऐसे में नशे के सौदागरों द्वारा इनके समस्त प्रयासों पर पानी फेरा जा रहा है। क्षेत्र में लॉकडाउन के बाद भी शराब ब्लैक में बेचने की सूचना के बाद शनिवार सुबह श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स ने शराब ठेको का स्टिंग आपरेशन किया एवं इस दौरान शेरूणा ठेके पर सरेआम शराब बेचना रिकॉर्ड भी किया है। ठेका खुला होने एवं शराब ब्लैक में बेचने की सूचना टाइम्स ने जब शेरूणा थानाधिकारी गुलामनबी को दी तो थानाधिकारी मय जाप्ता तुरंत ही मौके पर पहुंचे एवं शराब बेच रहे दो लोगों को राउंडअप करते हुए ठेके के ताले लगवाए। गुलाम नबी की सक्रियता के बाद क्षेत्र में थानाधिकारी की प्रशंसा हो रही है। टाइम्स के पास सूचना मिली के शराब ठेकेदार दिन में एवं रात को पुलिस की गश्त अधिक बढ़ जाने के कारण अल सुबह ही अपने ठेकों पर शराब की ब्लैक कर रहे है तो टाइम्स की टीम ने शनिवार सुबह सुबह यह स्टिंग किया है।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। पुलिस की दिन में व रात में गश्त बढ़ जाने के बाद अलसुबह ब्लैक में बिकने लगी है शराब।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। सेरूणा थानाधिकारी ने तुरंत मौके पर पहुंच कर ठेका सीज करते हुए 2 जनों को राउंडअप किया।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स के स्टिंग में सेरूणा में सुबह ही सरे आम ठेका खुला मिला।

विदित रहे कि कोरोना की गंभीरता को सबसे अधिक हल्के में लेकर लॉकडाउन का सर्वाधिक उलंघ्घन शराब एवं गुटके की लत वाले लोग ही कर रहे है। शराब एवं गुटके की तलाश में ये लोग हर दिशा में घूम रहे है एवं लॉकडाउन को धत्ता बता रहे है। ऐसे में कई दुकानदार जहां राशन के नाम पर गुटके बेच रहे है वहीं कई शराब ठेकेदार भी अवैध रूप से ठेका खोल कर महंगी दरों पर शराब की ब्लैक कर रहे है। क्षेत्र में ऐसी शिकायतें लगातार मिलने के बाद श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स ने शनिवार को क्षेत्र में स्टिंग आपरेशन किया एवं टाइम्स की टीम कई ठेकों पर पहुंची। टीम ने गांव गुंसाईसर बडा, शेरूणा व लखासर के ठेकों पर स्टिंग किया। गांव गुंसाईसर बडा एवं लखासर ठेका तो बंद मिला हालांकि यहां ग्रामीणों ने लुकछिप कर शराब बेचने की बात भी कही है। लेकिन गांव शेरूणा में तो ठेका पूर्णतया खुला मिला एवं धल्लडे से शराब ब्लैक में बेची जा रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!