June 22, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 9 मार्च 2023। श्रीडूंगरगढ़-बीदासर रोड पर रेलवे फाटक की जगह रेलवे ओवरब्रिज बनवाने की मांग को लेकर चल रहा आंदोलन गुरूवार को अपने 48वें दिन स्थगित कर दिया गया है। बुधवार को रेलवे, सा.नि.वि. एवं प्रशासनिक अधिकारी धरने पर पहुंचे थे एवं सरकार द्वारा इस विषय पर ली गई गंभीरता को दिखाते हुए प्रस्तावों की जानकारी दी। यह खबर भी श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स ने सबसे पहले एक्सक्लुसिव प्रकाशित की थी एवं क्षेत्र की जनता तक प्रशासन व रेलवे के प्रस्ताव की प्रतिलिपि भी पहुंचाई थी। इसके बाद आंदोलनकारियों की आपसी चर्चा शुरू हुई एवं सर्वसम्मति से सरकार द्वारा दिए गए प्रस्ताव पर सहमति देते हुए आंदोलन स्थगित करने का निर्णय लिया गया। श्रीडूंगरगढ़ रेलवे फ्लाईओवर ब्रिज निर्माण संघर्ष समिति के श्याम सुंदर आर्य ने बताया कि सरकार द्वारा यहां पर 7 मीटर चौड़ा एवं 800 मीटर लंबा ओवरब्रिज प्रस्तावित किया गया है।

इसके लिए 45 करोड़ रुपए का बजट होगा एवं इस 45 में से 22 करोड़ रुपए रेलवे देगा। इसके अतिरिक्त 9 करोड़ रुपए भूमि अधिग्रहण हेतु भी प्रस्तावित रखे गए है। भारतीय किसान संघ के तोलाराम जाखड़ ने बताया कि धरना स्थगित तो किया गया है लेकिन सरकार द्वारा आंदोलन स्थगन के बाद अगर इस प्रस्ताव को ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता है तो आंदोलन पुन: अधिक उग्रता के साथ शुरू किया जाएगा। धरना स्थगित करने का निर्णय लेने के दौरान समिति के कन्हैयालाल सिहाग, व्यापार मंडल अध्यक्ष श्यामसुंदर पारीक, माकपा शहर अध्यक्ष रामेश्वर लाल बाहेती, वरिष्ठ भाजपा नेता किशनाराम गोदारा, पूर्व सरपंच भंवरलाल बाना, श्रवणकुमार भामूं, रामकिशन गावड़िया, विवेक माचरा, धूडाराम डेलू, राजेन्द्र जाखड़, भैरालाल जाखड़, बंशीलाल मील, गणेशसिंह राजपूत आदि मौजूद रहे। वहीं क्रमिक अनशन पर बुधवार को उमाराम बाना एवं रामेश्वरलाल चौटिया रहे, जिन्हें आंदोलन स्थगन के बाद ज्युस पिला कर अनशन तुड़वाया गया। इस मौके पर संघर्ष समिति द्वारा आंदोलन, धरने एवं अनशन में सहयोग देने वाले समस्त जनप्रतिनिधियों, आमजनता का आभार जताया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!