सस्ता माल खरीदने के चक्कर में फंसे व्यापारी, पैसा और माल दोनो गंवाया, पुलिस पड़ी पीछे, पढ़े श्रीडूंगरगढ़ में हुई चोरी की पूरी स्टोरी।


श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 24 नवम्बर 2021। चालीस लाख के माल को दस लाख रुपए सस्ता 30 लाख में खरीदना हरियाणा के एक व्यापारी को महंगा पड़ गया और चोरों से हुई इस खरीद में व्यापारी को लेने के देने पड़ गए है। चोरों द्वारा चुराया गया माल खरीदने के चक्कर में वह व्यापारी पुलिस के डर से अब भागा भागा फिर रहा है। इस व्यापारी ने जहां 30 लाख रुपए चोरों को भुगतान कर अपना पैसा खो दिया वहीं चोरों से खरीदा गया माल भी पुलिस द्वारा जब्त कर लिया गया है। ये इनसाईड स्टोरी निकल कर आई है श्रीडूंगरगढ़ थाने में गत 22 नवम्बर को दर्ज हुए 39.50 लाख रुपए के सौलर पैनल चोरी के मामले में। मामले के जांच अधिकारी एएसआई पूर्णमल चौधरी ने बताया कि चोरी करने वाले ड्राईवर की कॉल डिटेल के अनुसार जांच शुरू की गई एवं जिस व्यक्ति से श्रीडूंगरगढ़ पहुंचने के बाद बात की हुई थी, उसकी लोकेशन निकलवाई गई। इसी लोकेशन के आधार पर कांस्टेबल पुनित कुमार, कमलेश कुमार, मुकेश कुमार की टीम को साथ लेकर हरियाणा के आदमपुर मंडी में दबीश दी गई। वहां पर एक खुले स्थान पर माल पड़ा मिला जिसकी शिनाख्त कम्पनी के प्रतिनिधि ने कर ली। इस पर पुलिस ने माल को जब्त कर श्रीडूंगरगढ़ थाने में रखवा लिया है। एएसआई पूर्णमल ने बताया कि प्राथमिक जांच में यह सामने आया है कि ट्रक ड्राईवर एवं मालिक ने तीसरे व्यक्ति के सहारे आदमपुर निवासी एक व्यापारी को 39.30 लाख रुपए का माल सस्ते में 30 लाख रुपए में बेचने का झांसा दिया एवं उससे पेमेंट लेकर माल श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र में उसके सुपुर्द कर दिया। सस्ता माल लेने के चक्कर में हरियाणा निवासी व्यापारी फंस गया एवं पुलिस ने माल जब्त कर उसकी तलाश शुरू कर दी है। अब पुलिस माल खरीदने वाले हरियाणा के व्यापारी से उसे माल बेचने वाले व्यक्ति एवं ट्रक के मालिक व ड्राईवर की तलाश में जुटी हुई है। विदित रहे कि गुजरात की कम्पनी थार सूर्या ने बीकानेर में अपने माल की डिलवरी देने के लिए गुजरात से 13 नवम्बर को ट्रक में माल भरवा कर रवाना किया था और ट्रक मालिक, ड्राईवर ने माल डिलवरी देने के बजाए 20 नवम्बर को श्रीडूंगरगढ़ में हरियाणा निवासी व्यापारी को माल सुपुर्द कर दिया था। इस संबध में कम्पनी के प्रतिनिधि द्वारा 22 नवम्बर को श्रीडूंगरगढ़ थाने में मुकदमा दर्ज करवाया गया था।