पंचायत चुनाव का दंगल, माकपा ने लिया मिशन प्रधान, बोले मिटा देंगे भाजपा, कांग्रेस रूपी कलंक।





श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 5 जनवरी 2020। आज कॉमरेड त्रिलोक शर्मा की 15वीं पुण्यतिथि पर श्रधांजलि देते हुए तहसील कम्युनिस्ट पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पंचायत चुनावों की रणनीति तैयार की। कम्युनिस्ट पार्टी ने पंचायत चुनाव की ताल ठोकते हुए मिशन प्रधान का लक्ष्य लिया।
बैठक में विधायक महिया ने कहा कि गत चुनाव में कांग्रेस के 11 सदस्य जीते और भाजपा के 10 सदस्य जीत कर आए लेकिन प्रधान भाजपा का बना और फिर अविश्वास प्रस्ताव में कांग्रेस के पक्ष में गए 21 में से 17 सदस्य गए। पंचायत सदस्यों की जम कर हुई खरीद फरोख्त को जनता ने देखा। महिया ने कहा कि क्षेत्र की जनता अब ये कलंक धो देगी। अब कम्युनिस्ट को जनता समर्थन देकर प्रधान बनाएगी और जनता का पैसा जनता के काम आ सकेगा। महिया ने कहा कि गाँवो के विकास के लिए सरकारी बजट पंचायत संस्थाओं के माध्यम से गाँवो में बसने वाले सभी किसान, मजदूर, शोषित, और दलितों को सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने का जरिया है। पर इससे लोगों ने अपने निजी स्वार्थ पूरे किए है। पंचायत समिति, जिला परिषद में दो बड़ी पूंजीवादी पार्टियों भाजपा व कांग्रेस का बारी बारी से कब्जा करके एक व्यवसाय के रूप में डील कर रही है। योजनाओं में पात्र लोग वंचित रह जाते है। महिया ने कार्यकर्ताओं को मिशन प्रधान दिया। महिया ने कहा क्षेत्र के विकास की चुनोतियाँ माकपा के सामने हैं।
बैठक एडवोकेट श्याम सुंदर आर्य की अध्यक्षता में हुई। आर्य ने कहा कि किसान हित मे कार्य करना माकपा के उद्देश्य है। हम फ़सलो के भाव, बैंकों में ग्रामीण किसान की कुर्की, खराब फसलों के बीमा क्लेम, बिजली, पानी, स्वास्थ्य जैसी मूलभूत समस्याओं का हल निकालने का रास्ता संघर्ष है और माकपा उनके लिए संघर्ष करती रही है। उन्होंने कहा कि पंचायतीराज संस्थाओ की स्थापना जिस उद्देश्य से की गई थी आज उन को छोड़कर भाजपा व कांग्रेस के नेताओ ने अपने चहेतों को बैठाकर एक लूट का अड्डा बना लिया है अब क्षेत्र में विकास की दिशा की जरूरत है जो माकपा ही तय कर सकती है।

माकपा तहसील सचिव अशोक शर्मा ने बताया कि देश मे राजनीतिक हालात ठीक नहीं है। जनता को गुमराह कर सरकारें शक्तियों के दुरुपयोग पर उतारू है। उन्होंने कहा क्षेत्र की जनता पंचायतीराज संस्थाओं के चुनाव में माकपा को ही चुनेगी।

बैठक में देराजसर सरपँच दानाराम भादू, सरपँच भंवरलाल बाना, किसान नेता कन्हैयालाल सिहाग, पूर्व सरपँच हुकमाराम डूडी, किसान सभा तहसील अध्यक्ष अमरगिरी गोस्वामी, रामप्रताप शर्मा, सोहनसिंह राठौड़, रामेश्वर राजपुरोहित, रामेश्वर बाहेती, सोम शर्मा, मुखराम गोदारा, पूर्व पँचायत समिति सदस्य पेमाराम नायक,एसएफआई छात्रनेता मुकेश सिद्ध,नत्थू नाथ मण्डा,काननाथ सिद्ध, मालाराम सुथार,किसान सभा पूर्व तहसील अध्यक्ष भंवरलाल भूंवाल, आदि ने भाग लिया। बैठक का संचालन मोहन भादू ने किया।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। माकपा ने मिशन प्रधान की रणनीति बनाई।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। माकपा ने मिशन प्रधान की रणनीति बनाई।