February 29, 2024

श्रीडूंगरगढ टाइम्स 17 अप्रेल 2020। राज्य में कोरोना के बढ रहे खतरे को देखते हुए श्रीडूंगरगढ में सुरक्षा के इंतजामात भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है। श्रीडूंगरगढ पुलिस थाना व कृषि मंडी के बाद अब उपखण्ड कार्यालय में भी सेनेटाइज होने के बाद प्रवेश कर सकेंगे। कोरोना महामारी में कोविड-19 का कंट्रोल रूम है इसी कार्यालय में है और पूरी तहसील से लोगों का, कर्मचारियों, अधिकारियों की, स्वयंसेवी संस्थाओं के कार्यकर्ता इस कार्यालय में आना जाना करते है उनकी सुरक्षा के लिए आज यह रूम बना दिया गया है। जिससे यहां सुरक्षा को पुख्ता किया जा सकें। समाज सेवी व धीरदेसर पुरोहितान निवासी डॉ. दिलीप सिंह राजपुरोहित ने यह कक्ष बनवाया है। ज्ञात रहे राजपुरोहित कोरोना के खिलाफ जंग में गांव से लेकर पूरे क्षेत्र में सक्रिय है। राजपुरोहित ने टाइम्स से बातचीत में पूरे क्षेत्र के समाजसेवियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि ये समाज में रहने वाले सैनिक है जो इस मुश्किल घड़ी में प्रशासन के साथ तन मन धन से कोरोना को हराने में व क्षेत्र की सेवा में जुटे हुए है। राजपुरोहित ने श्रीडूंगरगढ प्रशासन की कार्यशैली के लिए आभार व्यक्त किया। इस सेनेटाइजर कक्ष का उद्घाटन उपखण्ड अधिकारी राकेश कुमार न्योल, पूर्व उपप्रधान केशराराम गोदारा ने किया। सुरजनसर ग्राम पंचायत के सरपंच ओमप्रकाश सारस्वत, हरफूल सिंह यादव, महावीर प्रसाद जाट, पुरषोतम तावनिया, सुरेंद्र सिंह राजपुरोहित, आदि उपस्तिथ रहें। इसके निर्माण में उल्लेखनीय योगदान पुलिस विभाग के हरफूल सिंह यादव ने दिया। यादव लगातार यहां तीन दिन से खड़े रहकर इसका निर्माण करवाया। यादव ने बताया कि मात्र दो सैकण्ड में पूरा शरीर सेनेटाइज हो जाएगा।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। उपखंड कार्यालय में सेनेटाइज कक्ष समाजसेवी डॉक्टर दिलीप सिंह राजपुरोहित द्वारा बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!