पानी के लिए तरस रही 3000 की आबादी, बिजली की कर रहें मांग।




श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 25 नवंबर 2022। 3000 की आबादी एक पखवाड़े से अधिक समय से पेयजल के लिए तरस रही है। गांव डेलवां में पशुओं के पानी पीने की खेलियां सुख गई है, गौशाला में आपूर्ति टेंकरों से करवाई जा रही है, घरों में कृषि कुओं से पानी लाया जा रहा है, यहां ग्रामीण बुरी तरह से प्रभावित है और बिजली व पानी की भारी समस्या से जूझ रहें है।

विभाग के चार ट्यूबवेल, चारों खराब, कल ठीक होने की उम्मीद।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। गांव में जलदाय विभाग के चार ट्यूबवेल है और चारों एक पखवाड़े से खराब पड़ें है। गली गली पानी की पुकार मची है और ग्रामीण रोजाना विभाग की फेरियां लगा रहें है। वे अपने गांव के साथ दुर्व्यहार का आरोप लगा रहें है। विभाग के कुंए हर सप्ताह बिजली की समस्या के कारण ठप्प हो जाते है। जलदाय विभाग के एईएन बृजमोहन मूंड ने बताया कि डेलवां में दो ट्यूबवेल फैल हो गए है और उनके लिए सरकार से सेंशन ले ली गई है। इसी वित्तीय वर्ष में उसे पूरा करने का प्रयास किया जाएगा। वहीं दो ट्यूबवेल की मोटर जल गई जिसे आज ठीक करवा दिया गया है व कल दोनों ट्यूबवेल प्रारंभ करवाकर जल सप्लाई शुरू कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि आए दिन डेलवां में मोटर जल जाती है हमारा प्रयास है कि जनता को परेशानी ना हो परंतु बिजली समस्या से बार बार समस्या हो रही है।

बिजली की ट्रिपिंग के कारण मीटर के पास ही डटे रहते है ग्रामीण।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। सरपंच प्रतिनिधि डालूराम ने बताया कि गांव को ना तो पूरी बिजली दी जा रही है ना ही वोल्टेज पूरे दिए जा रहें है। उन्होंने कहा कि बिजली विभाग द्वारा डेलवा फीडर में कृषि कुएं, घरेलू कनेक्शन, पेयजल कुंए जुड़े होने के कारण गांव पूरी बिजली के लिए तरस रहा है। उन्होंने कहा कि गांव में बच्चों की पढ़ाई की समस्या, आटा पिसाई की समस्या, पीने के पानी की किल्लत से परेशान हो गए है। किसान वर्ग लाइट आने के दौरान होने वाली ट्रिपिंग के कारण मीटर के पास ही बैठा रहता है। लगातार बिजली 400 वोल्ट से 100 पर और 100 से 400 पर सुई घुमती रहती है। किसान लगातार मीटर को बंद चालू बंद चालू करते रहते है और इससे वे बेहद परेशान हो गए है। खेत पर किसान सर्द रात में भी चैन की नींद सो नहीं पाते है।
रोज विभागों के चक्कर दर चक्कर काट रहें है ग्रामीण।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। सरपंच प्रतिनिधि डालूराम मेघवाल की अगुवाई में गांव का हर वर्ग इस समस्या से समाधान की मांग एक स्वर में कर रहा है। सभी ग्रामीण हर हाल बिजली पानी की समस्याओं से निजात पाना चाहते है। सरपंच प्रतिनिधि सहित उपसरपंच भूराराम, पंच ईमीचंद, पंच मेघाराम, गांव के जागरूक युवा रामचंद्र डेलू, केसराराम, सुकराम जाट, हीराराम, लिखमाराम, भंवरलाल भादू, केसराराम, मुन्नीराम मेघवाल लगातार विभागों के चक्कर काट रहें है।
विभाग बरत रहा है बेपरवाही, नहीं हो रहा है काम।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। डेलंवा के लिए अलग से फीडर के लिए डिमांड पत्र विधायक कोष से भरवा दिया गया है तथा कार्य टेंडर भी हो गए है। ठेकेदारों को सामान भी दे दिया गया है। पेयजल सप्लाई व कुंओ का फीडर अलग होने से ग्रामीणों को राहत मिल सकेगी और इस कार्य में हो रहा विलंब ग्रामीणों पर भारी पड़ रहा है। विभाग के सहायक अभियंता मुकेश मालू ने बताया कि डेलवां फीडर का कार्य एक दो दिन में प्रारंभ करवा दिया जाएगा। मालू ने बताया कि पोल के लिए सर्वे करवाया जा रहा है और उसका सामान भी करीब करीब पूरा आ चुका है।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। पानी की कमी से सुख गई खेलियाँ।