February 26, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 28 सितम्बर 2020। क्षेत्र के युवक विजयपाल हरडू को गत 24 सितम्बर को बीकानेर जाते हुए सेरूणा एवं गुंसाईसर के बीच में सड़क पर एक बैग लावारिस मिला था। इस पर हरडू ने अपनी ईमानदारी का परिचय देते हुए बैग की जानकारी श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स के माध्यम से शेयर की थी। टाइम्स में खबर प्रकाशन के बाद नकदी, गहनें एव बच्चों व महिलाओं के कपडों से भरी बैग का मालिक मिल गया एवं सोमवार को हरडू ने श्रीडूंगरगढ़ पुलिस थाने में श्रीडूंगरगढ़ थानाधिकारी के समक्ष बैग को उसके मालिक को सुपूर्द कर दिया। बैग कस्बे के मोमासर बास निवासी मनीष स्वामी की बहिन सुमन स्वामी का था। सुमन गत 24 को अपने पीहर से ससुराल के लिए रवाना हुई थी एवं रास्ते में उसकी पांच वर्षीय पुत्री को उल्टियां होने पर गाड़ी रोक कर बैग का उपयोग किया था। बैग वापस गाड़ी की छत पर रखने के दौरान बांधना भूल गए एवं रवाना हो गए तो रास्ते में बैग गिर गया एवं किसी को पता भी नहीं चला। बैग वहां से गुजर रहे विजयपाल को मिला एवं उन्होने ईमानदारी दिखाते हुए आज बैग मनीष स्वामी को सुपुर्द कर दिया है। हालांकि मनीष ने श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स में खबर प्रकाशन के तुरंत बाद ही बैग पर अपना दावा कर दिया था एवं आज पूर्णतया वैरीफाई होने के बाद बैग को उसके मालिक के सुपूर्द कर दिया गया। मनीष स्वामी ने विजयपाल हरडू एवं श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स का आभार जताया है। वहीं श्रीडूंगरगढ़ थानाधिकारी वेदपाल शिवराण ने भी हरडू को ईमानदारी के लिए शाबासी देते हुए क्षेत्र के युवाओं को ईमानदारी की राह पर चलने का आह्वान किया है। इस दौरान मार्डन राजस्थान उमावि के शिक्षक तोलाराम झोरड़ एवं चंद्रप्रकाश हरडू भी उपस्थित रहे।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। बेग मालिक कस्बे के मोमासर बास निवासी मनीष स्वामी ने विजयपाल हरडू और श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स का आभार जताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!