June 25, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 20 मई 2024। श्रीडूंगरगढ़ अचंल में भीषण गर्मी का कहर जिसमें तापमान 46 डिग्री पार कर गया है। ऐसे में अघोषित बिजली कटौती आमजन को जहर लग रही है। एसी कूलर भी फेल करने वाली गर्मी में ग्रामीण अंचल में लोग पंखा चलने के इंतजार में हवा के लिए तरस रहें है। कई गांवो में आबादी बेहाल होकर पेयजल की समस्या से जूझ रही है। बिजली विभाग द्वारा गांवो में 14 से 18 घंटे की अघोषित बिजली कटौती की जा रही है। विभागीय अधिकारी इस पर चुप्पी साधे है वहीं बिजली आपूर्ति नहीं होने से गांवो में पेयजल संकट भी खड़ा हो गया है। ग्रामीणों को भारी कटौती ने बेदम कर रखा है। गांव तोलियासर, धोलिया, उदरासर, गुसाईंसर बड़ा, जेतासर सहित विभिन्न गांवो में रात दिन कटौती की जा रही है। धोलिया गांव में आज दो दिन से बिजली आई है और ग्रामीण पीने के पानी की प्यास बुझाने को भी तरस रहें है।
गांवो में हो रही है खूब कटौती, हवा को तरसे ग्रामीण।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। गर्मी में ग्रामीण पंखे व कूलर की हवा के लिए तरस रहें है। गांव तोलियासर के ग्रामीणों ने शिकायत करते हुए बताया कि शुक्रवार व शनिवार को बिजली मात्र कुछ घंटे ही आई तो टाइम्स द्वारा गांव में बिजली के आने और जाने का चार्ट बनाया गया तो दोपहर 12 बजे तक मात्र चार घंटे सप्लाई होना पाया गया। गांव में रविवार शाम 7 बजे बिजली गुल हो गई जिसके रात भर इंतजार में ही गुजर गई पर बिजली नहीं आई। सुबह साढे पांच बजे बिजली आई और 6 बजे से घोषित कटौती प्रारंभ हो गई। उसके बाद लाइट 9 बजे आई और 11 बजे चली गई। जिसके बाद 1 बजे एक मिनिट की सप्लाई के बाद पुन: कटौती जारी है। सरपंच प्रतिनिधि गिरधारीसिंह राजपुरोहित ने भारी नाराजगी जताते हुए बताया कि विभाग में कोई सुनवाई नहीं हो रही है और कटौती से ग्रामीण चैन की चार घंटे नींद भी नहीं ले पा रहें है। घरों में महिलाएं व बच्चे गर्मी से बेहाल है। गांव उदरासर के सरपंच किसनाराम गोदारा ने बताया कि आमजन बुरी तरह से गर्मी से परेशान है। कृषि कुओं सहित घेरलू बिजली खूब काटी जा रही है। बता देवें सरकारी सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर प्रदेश में 3 इकाईयों के बंद होने से सप्लाई नहीं मिल पा रही है। केंद्र सरकार और प्राइवेट इकाईयों में भी तकनीकी खामी से बिजली नहीं मिल पा रही है।

error: Content is protected !!