February 25, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 10 दिसम्बर 2020। ग्यारह बजने के साथ ही पंचायत समिति के दरवाजे बंद कर दिए गए है और प्रधानी मैदान में तीन दावेदार उतर गए है। तीन पर्चे भरे जाने के साथ ही चुनाव की रोचकता बढ़ गयी है व कांग्रेस के लिए राह आसान नहीं मानी जा रही है। भाजपा, कांग्रेस, सीपीएम तीनों ने अपनी अपनी दावेदारी प्रस्तुत कर दी है। सभी पार्टियां अपने अंतिम प्रयास तक मैदान में डटे रहने की रणनीति पर कायम है। चुनावी समीकरणों में अफवाहों का बाजार भी गर्म है और लोगों में परिणाम का उत्साह भी बढ़ गया है। ये चुनाव विधानसभा चुनावों का आधार माना जा रहा है और क्षेत्रवासी इसे नेताओं की प्रतिष्ठा से जोड़ कर भी देख रहे है। कांग्रेस को प्रधानी से रोकने के लिए अंतिम जोड़ तोड़ चल रही है वहीं कांग्रेस भी पूरजोर प्रयासों में जुटी है और एक वोट से उलटफेर कर सकने में सक्षम हो सकेगी। राजनैतिक विश्लेषकों का मानना है कि 3 नामांकन होने का मतलब यही है कि कही ना कही समझौते की सुगबुगाहट चल रही है और अगर ऐसा नही होता तो 3 पर्चे नही आते। 3 प्रत्याशी होने का मतलब स्प्ष्ट रूप से कांग्रेस का प्रधान बनना होता है। कांग्रेस का स्प्ष्ट प्रधान बनना होता तो नामांकन ही नहीं किया जाता। जो भी हो तस्वीर 1 बजे तक साफ होगी। 1 बजे तक नाम वापसी का समय है।

श्रीडूंगरगढ टाइम्स। पंचायत समिति के दरवाजे बंद, पर्चाें की हो रही है जांच ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!