ग्रामीण और विभाग ने एक दूसरे पर लगाया लापरवाही का आरोप।







श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 27 जनवरी 2022।  श्रीडूंगरगढ़ के गांव सातलेरा में पेयजल आपूर्ति की समस्या लगातार खड़ी रहती है व बार बार समाधान के बावजूद पेयजल संकट से जूझते ग्रामीण नजर आते है। ग्रामीण जलदाय विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए सरकारी तंत्र को कोस रहें है वहीं विभाग ट्यूबवेल संचालन में बरती जा रही लापरवाही को जिम्मेदार ठहरा रहा है। ग्रामीण सुगनाराम जाखड़, केसरीराम जाखड़, हंसराज, विजयपाल, किशनलाल जाखड़ ने कहा कि ग्रामीण बूंद बूंद पानी को तरस रहें है और 500 से 700 रुपए में टैंकर से पानी खरीद रहें है। बेसहारा पशु भी सुखी खेलियों के कारण पानी के लिए जगह जगह भटक रहे है। विभाग के जेईएन प्रीतम सिंह ने बताया कि सातलेरा में नई केबल, नई मोटर, नया पैनल लगा कर दिया गया परंतु संचालन कर्ता की घोर लापरवाही के चलते मात्र सात दिन में मोटर जला दी है तथा ग्रामीण भी ध्यान नहीं देते। सिंह ने बताया कि ग्रामीणों की समस्या को देखते हुए मोटर निकलवा कर रिपेयर होने के लिए दी गई है जो आज दुरस्त नहीं हुई है तथा हमारा प्रयास है कि शुक्रवार तक मोटर लगवा दी जाए।