May 24, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 28 मई 2021। श्रीडूंगरगढ़ नगरपालिका में शुक्रवार काे टेंडर खाेलने एवं निरस्त करने के विवाद में हुए हंगामे एवं पार्षदाें द्वारा टेंडर खाेलने की मांग पर धरने पर बैठने के बाद भी नगरपालिका प्रशासन ने अपरिहार्य कारणाें से टेंडर स्थगित कर दिए है। हालांकि पालिकाध्यक्ष मानमल शर्मा ने भी आज ही टेंडर खाेलने की मांग की थी और टेंडर रद्द करने के विराेध में पालिका से बाहर निकल आए। पालिकाध्यक्ष के निकलने के बाद पार्षदाें ने पालिका की सीढ़ियों पर धरना शुरू किया वहीं पीछे से पालिका प्रशासन ने टेंडर निरस्त करने के आदेश जारी कर दिए। ऐसे में पार्षदाें में आक्राेश व्याप्त है एवं पार्षदाें ने इसे राजनैतिक हस्तक्षेप के कारण कस्बे की सफाई व्यवस्था एवं विकास कार्याें में बाधा बताते हुए अपनी नाराजगी जताई है। पार्षद विक्रमसिंह शेखावत ने बताया कि भाजपा एवं कांग्रेस से जुड़े सभी पार्षदाें ने एकस्वर में टेंडर ऑनलाईन हाेने पर आज ही खाेलने की मांग की थी लेकिन माकपा नेता नत्थूनाथ मंडा, लाेकेश सिद्ध आदि ने आज टेंडर निरस्त कर बाद में ऑफलाईन टेंडर करने की मांग कर दी। पालिका प्रशासन इनके दबाव में आ गया एवं बिना किसी नियम के समस्त विधि सम्मत एवं ऑनलाईन पारदर्शीता के साथ किए गए टेंडराें काे निरस्त कर दिया। कस्बे के साथ माकपा नेताओं द्वारा अपने निजी हित के लिए किए जा रहे इस अनीतिपूर्ण कार्य काे जनता देख रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!