May 23, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 16 जनवरी 2020। क्षेत्र के गांवों में अगले पांच सालों तक गांव का मुखिया निर्धारित करने के लिए मतदान शुक्रवार को होगा। मतदान से पहले का अंतिम दिन होने के कारण चुनाव सर पर चढ़ कर बोल रहा है। क्षेत्र की 53 में से 3 पंचायतों में जहां निर्विरोध सरपंच बन चुके है वहीं अब शुक्रवार को 50 पंचायतों के चुनाव होने है। इन 50 पंचायतों में 209 प्रत्याशी मैदान में है एवं सभी प्रत्याशी अपने अपने सर्मथकों की बाडे बंदी अपने अपने खेमों में कर चुके है। ऐसे में आज की रात एक दुसरे के खेमों मे सेंध लगाने की रात है। शुक्रवार की सुबह से ही गाडियां दौड़नी शुरू हो जाएगी एवं सभी प्रत्याशियों का प्रयास रहेगा कि अपने अपने मतदाताओं की पोलिंग सबसे पहले करवा लें।
मंडी में तीन दिनों का अवकाश, बाजार भी हुए सुने।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। पंचायत चुनावों का रंग क्षेत्र में इस कदर चढ़ा हुआ है कि श्रीडूंगरगढ़ उपखण्ड मुख्यालय तो सूना सा ही हो गया है। मंडी, पंचायत समिति, तहसील, पुलिस थाना, नेताओं के कार्यालय सहित बाजार भी सूना सूना सा पड़ा है। कृषि उपज मंडी व्यापार संघ ने तो चुनाव की खुमारी में लगे किसानों को अपनी जिंसों की निलामी से चिंता मुक्त करते हुए तीन दिनों तक मंडी में अवकाश रखने की घोषणा कर दी है। मंडी व्यापार संघ अध्यक्ष श्यामसुंदर पारीक ने बताया कि शुक्रवार से लेकर रविवार तक अवकाश रखा गया है एवं आगामी बोली सोमवार 20 जनवरी को ही होगी। इसलिए किसानों को भी अपना माल 20 जनवरी को ही लेकर आने को कहा गया है।
पहली बार हो रहे है ईवीएम से चुनाव।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। क्षेत्र में पहली बार पंचायत चुनाव ईवीएम के माध्यम से समपन्न हो रहे है। बीकानेर से ईवीएम मशिनें लेकर रिर्टनिंग अधिकारी अपने अपने दल के साथ रवाना होकर मतदान केन्द्रों पर पहुंच चुके है। यहां पर इनके लिए आवश्यक संसाधनों की व्यवस्थाएं पंचायत समिति द्वारा करवाई गई लेकिन फिर भी गांवों में प्रत्याशियों द्वारा मतदान दलों की सेवा करवाई जा रही है। हर पंचायत के लिए अलग अलग ईवीएम तैयार करवाई गई है। जिसमें प्रत्याशियों के नाम एवं चुनाव चिन्ह प्रकाशित किए गए है। गांवों में प्रत्याशियों द्वारा डमी ईवीएम मशीन द्वारा अपने अपने सर्मथकों को समझाया भी गया है।
नोटा वाले क्या करें, किसे समझाएं, कैसे समझाएं।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। पंचायत चुनावों में प्रत्याशियों की संख्या के अनुसार चुनाव चिन्ह् आंवटित किए गए है। सामान्यता: देखा जाता है कि चुनावों में नोटा गैंग भी बड़ी सक्रिय होती है एवं सोशल मीडिया पर सभी दलों की निंदा करते हुए नोटा पर बटन दबाने का प्रचार प्रसार किया जाता है। लेकिन पंचायत चुनाव में नोटा बटन का नम्बर एवं निशान संबधित पंचायत में प्रत्याशियों की संख्या के अनुसार है। ऐसे में नोटा गैंग मौन रहने को मजबुर हो गई है।
सुबह 8.00 बजे मतदान शुरू, शाम 5.00 तक पहुंचने वालों का लगेगा वोट।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। क्षेत्र की ग्राम पंचायतों में सरपचं एवं वार्ड पंच के लिए मतदान प्रक्रिया सुबह 8 बजे शुरू हो जाएगी एवं मतदान केन्द्र पर शाम 5 बजे तक पहुंचने वाले मतदाताओं का भी मतदान करवाया जाएगा। लेकिन मतदान केन्द्र पर शाम 5 बजे बाद प्रवेश नहीं दिया जाएगा। पोलिंग एंजेट के फार्म भी प्रत्याशियों से प्रमाणित करवा कर गुरूवार शाम को ही भरवा लिए गए है। मतदान प्रक्रिया पूर्ण होने के तुरंत बाद ही उपस्थित प्रत्याशियों के समक्ष ही परिणाम घोषित किया जाएगा।
1 लाख 60 हजार से अधिक मतदाता करेगें मतदान।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। श्रीडूंगरगढ़ पंचायत समिति में शुक्रवार को होने वाले मतदान में 1.60 लाख से अधिक मतदाता भाग लेगें। क्षेत्र की 53 पंचायतों में नाम जुडवाने, कटवाने की प्रक्रिया पुरी होने के बाद मतदाता सुची के अंतिम प्रकाशन में 160844 मतदाता है। इनमें से 85081 पुरूष एवं 75756 महिला मतदाता है। 7 मतदाता थर्ड जेंडर भी है। क्षेत्र में सर्वाधिक मतदाता ग्राम पंचायत मोमासर में 9055, रीड़ी में 7152, बिग्गा में 4810 मतदाता है एवं सबसे कम पंचायत लिखमीसर दिखणादा में 1295, सूडसर में 1720 एवं कितासर बीदावतान में 1726 मतदाता है।
शराब दुकानें सील लेकिन शराब के नशे में नशेड़ी।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। पंचायत चुनावों के लिए प्रशासन की सख्ती के तहत क्षेत्र में शराब की दुकानें बुधवार को शाम पांच बजे ही सील कर दी गई है एवं शुक्रवार को मतगणना के पश्चात ही खुल सकेगी। लेकिन गांवों में हर नशेड़ी नशे में झूम रहा है। अभी भी सभी गांवों में आवश्यकतनुसार शराब की सप्लाई ठेकेदारों द्वारा दुकानों के बाहर से की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!