July 13, 2024

श्रीडूंगरगढ टाइम्स 26 मई 2020। मई का अंतिम सप्ताह और आसमान से बरस रही आग ऐसे में नरेगा श्रमिक लू के गर्म थपेड़ो से लड़ने को मजबूर है। इस समय लगभग पूरा देश कोरोना के साथ लू से भी लड़ रहा है और बीकानेर व चुरू जिले में पारा 47 डिग्री के पार जा रहा है। सुबह 10 बजे से पहले ही इन जिलों में गर्म लू के थपेड़े प्रारम्भ हो जाते है। मनरेगा के श्रमिक भी अभी सुबह 6 बजे से 1 बजे तक कार्य कर रहे है और ऐसे में वे जलती दुपहरी घर लौटने पर चक्कर आने, सरदर्द होने व जी घबराने जैसी शिकायत से परेशान हो रहे है। भीषण गर्मी में नरेगा श्रमिक जिलाकलेक्टर से समय परिवर्तन की मांग कर रहे है। इनका कहना है कि समय कुछ दिनों के लिए एक बजे से घटाकर ग्यारह बजे तक कर दिया जाए या सुबह एक घंटे और जल्दी बुला लिया जाए। उपखण्ड के गांव सातलेरा की एनएच ग्यारह पर स्थित नुरानिया जोहड़ पायतन पर मनरेगा कार्य में जुटी महिला श्रमिक राधादेवी, चंदादेवी, सुमन, परमा, बाधु देवी सहित सभी श्रमिको ने कहा कि भीषण गर्मी में लू के थपेड़ो में एक बजे तक काम करना किसी सजा से कम नही है। चिलचिलाती धूप मे बेहाल श्रमिक चक्कर आने या जी घबराने की शिकायतें कर रहे है। कार्यस्थल पर पानी की टंकियो का पानी भी एकदम गर्म हो जाता है। श्रमिक भंवरलाल ने कहा कि एक बजे छुटुटी होने पर घर जाते है तो घर नेड़ो लेवणों मुश्किल हो जावे। ये श्रमिक जिलाकलेक्टर से कुछ दिनों के लिए समय कम करने की गुहार भी लगा रहे है।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। एन एच स्तिथ नुरानिया जोहड़ पायतन पर कार्य करते श्रमिक।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। श्रमिकों ने जिलाकलेक्टर से समय परिवर्तन की गुहार लगाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!