विदेश में रहते हुए निभाया माटी का फर्ज, हॉंगकॉंग से आये ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर, एनवीपी की ऑक्सीजन सेवा में विस्तार।


श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 19 मई 2021। श्रीडूंगरगढ़ कस्बे के प्रवासी नागरिक देश और विदेश में हर जगह अपनी व्यवसायिक सफलताओं से कस्बे का नाम रोशन कर रहे है और ये प्रवासी अब कोरोना काल मे अपनी मिट्टी का कर्ज चुकाने के लिए भी आगे आ रहे है। क्षेत्र में बढ़ते कोरोना और घटती ऑक्सीजन सप्लाई को देखते हुए हॉंगकॉंग प्रवासी कस्बे के 2 परिवारों ने अपनी मिट्टी का कर्ज चुकाते हुए यहां 2 ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर भिजवाए है। कस्बे में ऑक्सीजन सेवा दे रही सामाजिक संस्था नागरिक विकास परिषद के अध्यक्ष श्रवण कुमार सिंधी ने बताया कि हालात ऐसे थे कि अपने यहां भी मुंहमांगे पैसे देने पर भी ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर मशीनें नहीं मिल रही थी। ऐसे में संस्था के आजीवन सदस्य डॉक्टर नारायण बिहानी ने हॉंगकॉंग प्रवासी रतनलाल नन्दकिशोर राठी परिवार, कालूबास तथा अमरचंद सुधीर कुमार मूंधड़ा परिवार, आड़सर बास को ऑक्सीजन मशीनें भेजने के लिए प्रेरित किया। इस पर दोनों परिवारों द्वारा हॉंगकॉंग में उच्च क्वालिटी की 2 मशीनें खरीद कर श्रीडूंगरगढ़ भिजवाई गयी है। ये मशीनें हॉंगकॉंग से दिल्ली, दिल्ली से जयपुर फ्लाइट में तथा वहां से श्रीडूंगरगढ़ तक ट्रांसपोर्ट में पहुंची है। ये 2 मशीनें और आने के बाद संस्था में 15 ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर की सेवाएं आमजन के लिए उपलब्ध हो गई है। संस्थाध्यक्ष सिंधी ने बताया कि इन 15 के अलावा घोषित हो चुकी धनराज भीकमचंद हेमराज पुगलिया परिवार द्वारा 1 मशीन तथा दिनेश कुमार रमेश कुमार लाहोटी परिवार, बिग्गाबास द्वारा 1 मशीन भी शीघ्र ही संस्था में उपलब्ध हो जाएगी।