सावधान किसान, होना होगा एकजुट, अब नहीं चेते तो फसलों के लिए पड़ेगा रोना। देखें फ़ोटो, वीडियो।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 12 जुलाई 2020। श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र में लगातार टिड्डियों का आक्रमण हो रहा है ऐसे में क्षेत्र के किसानों को अब सावधान होकर कृषि विभाग के कंधे से कंधा मिलाकर एकजुटता से टिड्डियों के खिलाफ लड़ना होगा। कृषि विभाग के एक्सपर्ट की माने तो अब समय चेत जाने का है। हमारे क्षेत्र में टिड्डी दल अब पीले रंग के हो गए है। ये टिड्डियों की सबसे खतरनाक अवस्था है में है। पीले रंग की ये टिड्डियां प्रजनन की अवस्था में अब ये जहां डेरा डालेगी वहां अंडे देगी। और इनके अंडों से कुछ दिनों में फाका निकलेगा जो फसलों के लिए टिड्डियों से अधिक खतरनाक है। अब किसानों को जरूरत है क्षेत्र में किसानों एकजुट होकर टिड्डियों के आगमन की सूचना आगे से आगे एकदूसरे को देवें व इन्हें नहीं बैठने नहीं देने का प्रयास करें। किसान ढोल ,थाली, पीपे बजाएं और जिस ओर जा रही है उस ओर के किसानों को सूचना भी अवश्य देवें।
कृषि विभाग के सहायक कृषि अधिकारी रमेश भामू ने बताया कि जिस भी गांव में आए वे पहले सूचना पटवारी, सरपंच, ग्राम विकास अधिकारी, वार्ड पंच को देवें तथा गांव में ट्रैक्टर स्प्रेयर वाले किसान भी तैयार रहें। जिससे विभाग के कीटनाशक लेकर पहुंचते ही तुरंत अधिक से अधिक क्षेत्र में टिड्डियों को मारने की कार्यवाही की जा सके। इन ट्रेक्टर स्प्रेयर वाले किसान को एक रात छिड़काव करने का 2,500 रुपये अनुदान भी कृषि विभाग देता है। ऐसे में किसान को आगे आकर विभाग की मदद से फसलों को फाके से बचाने के लिए प्रयास करने होंगे।