February 27, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 10 नवम्बर 2020। श्रीडूंगरगढ़ पंचायत समिति के प्रधान पद के चुनावों की टिकटों के वितरण में देहात जिलाध्यक्ष और गत विधानसभा चुनावों में भाजपा प्रत्याशी रहे ताराचन्द सारस्वत ने अपना दमखम दिखाया है। लंबे समय तक खींचतान के बाद आखिर क्षेत्र के सभी टिकट वही फाइनल हुए हैं जो जिलाध्यक्ष ने तय किये हैं। लेकिन इस पूरे एपिसोड में सबसे ज्यादा चर्चा रही है क्षेत्र के वार्ड 3 के टिकट की। यहां पर पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल के करीबी माने जाने वाले कोडाराम भादू का टिकट पार्टी ने काट दिया है। श्रीडूंगरगढ़ में प्रधान पद पर ओबीसी महिला दावेदार होंगी तथा इसी दौड़ में भादू ने भी अपनी पत्नी चुन्नीदेवी का नामांकन 9 नवम्बर को दाखिल करवा दिया था। भादू के नामांकन दाखिल करवाने से पहले ही ताराचन्द सारस्वत गुट द्वारा इस वार्ड पर सरोज देवी विश्नोई के नाम पर टिकट फाइनल होने की खबर वायरल करवा दी गई थी। लेकिन फिर भी भादू ने अपना नामांकन भरा और प्रदेश नेतृत्व के निर्देशों पर नामांकन भरने की बात कही। इस बीच भाजपा प्रदेश महामंत्री के लेटर पेड पर श्रीडूंगरगढ़ पँचायत समिति के लिए जारी की गई प्रत्याशी लिस्ट में भादू की पत्नी का नाम शामिल था। जिला महामंत्री ओर प्रदेश महामंत्री की लिस्टों में पूरे 21 में से केवल 3 नम्बर वार्ड पर नाम बदला हुवा होने से पूरे क्षेत्र में खासी चर्चा भी हुई। लेकिन अब फाइनल टिकट जिलाध्यक्ष द्वारा दी गई टिकट सरोज देवी विश्नोई का ही माना जा रहा है। और इसी के साथ पूरे क्षेत्र में जिलाध्यक्ष द्वारा यह संदेश की क्लियर कर दिया गया है कि बड़े नेताओं की सिफारिशों के बजाय संघठन रीति के अनुसार ही टिकट तय किये गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!