February 25, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 23 फरवरी 2021। आमजन व जागरूक किसान नए काले कृषि कानूनों के विरोध से जुट रहें है और ये कानून किसान को उसकी उपज की कीमत नहीं देने व उद्योगपतियों के घर भरने का काम करेंगे। देश का आम नागरिक महंगाई की मार से त्रस्त है और इन कानूनों से महंगाई की खाई इतनी गहरी होगी कि आम नागरिक उसमें फंस कर दैनिक आवश्यकताओं के लिए भी मुश्किल में फंस जाएंगे। ये विचार व्यक्त किए श्रीडूंगरगढ़ विधायक गिरधारीलाल महिया ने और मौका था गांव मोमासर में सोमवार को आयोजित रामदेव मंदिर में किसान पंचायत का। अखिल भारतीय किसान सभा के बैनर तले मेले में किसान पंचायत का आयोजन कर क्षेत्रीय नेताओं ने किसानों व आम नागरिकों को कृषि कानूनों के बारे जागरूक करने का प्रयास किया। सँयुक्त किसान मौर्चा के नेता श्याम सुंदर आर्य ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था बड़े उद्योगपतियों के हवाले करते जा रहें है इससे न केवल किसान बल्कि आम जनता का जीवन गुजारा बहुत कठिन होता जाएगा। इस दौरान अखिल भारतीय किसान सभा के प्रदेश महासचिव कॉमरेड छगनलाल चौधरी ने आज सरदारशहर में होने वाली किसान महापंचायत को लेकर किसानो को पीले चावल दे कर आने का न्योता भी दिया। सभा को पूर्व सरपंच भंवरलाल बाना, पूर्व सरपंच बीरबलनाथ सिद्ध, नत्थूनाथ मण्डा, पूर्व सरपंच रतनसिंह राठौड़, माकपा शहर अध्यक्ष रामेश्वर बाहेती, श्रवण भामू, केसराराम मेघवाल, मुकेश ज्याणी, बीरबल पूनिया, रामधन जाखड़, प्रहलाद भामू ने भी सम्बोधित किया।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। विधायक महिया ने किसान पंचायत में नए कृषि कानूनों का पुरजोर विरोध करने की पैरवी की।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। किसान नेताओं ने मेले में ग्रामीणों को सम्बोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!