लंपी चर्म रोग की ग्राउंड रिपोर्ट, पहुंचाए सभी पशुपालकों तक।




श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 6 अगस्त 2022। लंपी रोग से बचाव के सामूहिक प्रयास क्षेत्र में प्रारंभ हो गए है। परंतु पीड़ित पशु के लिए बरती गई लापरवाही भी मौत का कारण बन रही है। नीम व फिटकरी के पानी से गौवंश को नहलाना भी उनकी मौत का कारण बन रहा है। पशु चिकित्सक डॉक्टर दीनू खान ने जानकारी देते हुए बताया कि लंपी से पीड़ित होने से पूर्व छिड़काव ठीक है परंतु लंपी से पीड़ित होने पर गौवंश को 104 या 105 डिग्री तक बुखार हो जाता है। जिसमें पशु पालक उसे ठंडे पानी से बाल्टी दर बाल्टी फिटकरी डाल कर नहला देते है जिससे उसकी मौत भी हो जाती है। खान ने बताया कि पशुपालक केवल कॉम्बिफ्लेम दे रहें है जोकि सही इलाज नहीं है। डॉक्टरों ने पशु पालकों से अपील की है कि लंपी के लक्षण नजर आने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें व गॉट पॉक्स का टीका लगवाएं। उन्होंने कहा कि पशु चिकित्सक की सलाह से उपचार करें जिससे गौवंश सुरक्षित हो सकें। उन्होंने सचेत किया है कि पशु की नाक से स्राव होने पर उसे नहलाएं नहीं। बता देवें क्षेत्र में लंपी की रोकथाम के लिए विभाग सहित अनेक स्तर पर प्रयास हो रहें है।

हजारों की दवाओं का दिया सहयोग, डॉ.भाटी ने जताया आभार।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। विन वेट फार्मा के एरिया मैनेजर हरिओम सारस्वत ने कंपनी की ओर से पशु चिकित्सालय श्रीडूंगरगढ़ में 75 हजार की दवाओं का सहयोग दिया है। सारस्वत ने 11 हजार की दवाएं श्रीकृष्णा गौशाला गुसाईंसर बड़ा में भी दी है। इस मौके पर उपस्थित तहसीलदार राजवीर कड़वासरा ने चिकित्सकों को गौवंश रक्षार्थ क्षेत्र में एक योजनाबद्ध तरीके से कार्य करने के निर्देश दिए। राजवीर ने सारस्वत के प्रयास की सराहना करते हुए समर्थ नागरिकों की भी योगदान देने के लिए आगे आने की बात कही है। ब्लॉक पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. उत्तम सिंह भाटी ने कंपनी का आभार जताया। डॉ. दीनू खान ने दवाईयों से गौवंश की सेवा होने की बात कही।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। हजारों की दवाएं राजकीय अस्पताल में सौंपी कंपनी ने, अधिकारियों ने जताया आभार।

24 घंटो के लिए बनाया कंट्रोल रूप।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। लंपी चर्म रोग के हालातों को देखते हुए पशुपालन विभाग ने 24 घंटे के लिए कार्यालय संयुक्त निदेशक पशुपालन विभाग बीकानेर में कंट्रोल रूम बनाया है। इसमें सुबह 6 से 9 बजे व सांय 6 बजे से 10 बजे तक संयुक्त निदेशक जतिन परिहार 9461541781, संयुक्त निदेशक गोपाल सिंह 9460503792 सुबह 9.30 सांय 6 बजे तक तथा सत्यनारायण 9413206855 रात्रि 10 बजे से प्रात 6 बजे तक की ड्यूटी लगाई गई है। कोई समस्या होने पर पशुपालक इन नम्बरों पर शिकायत कर सकते है।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। गांव गुसाईसर बड़ा में लंपी से बेहाल पालतू पशु।