July 13, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 27 जून 2019। ज्यादा कमीशन लेने के चक्कर मे श्रीडूंगरगढ़ कस्बे में एक ईमित्र चलाने वाला युवक शातिर ऑनलाइन फ्रॉड करने वालो के चंगुल में फंस गया और उनका सहयोगी बनने के कारण इस युवक को भी गुजरात पुलिस की एसओजी टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार झारखंड से अपना गिरोह संचालित करने वाले शातिर हाईटेक अपराधियों ने वर्ष फरवरी 2018 में गुजरात के हिम्मतनगर में ऑनलाइन फ्रॉड करके वहां के लोगो के ईवॉलेट से खुद के वॉलेट में पैसा ट्रांसफर कर लिया गया था और इस वॉलेट से श्रीडूंगरगढ़ के कुछ विद्युत उपभोक्तओं के बिल भरे गए थे। जांच करते हुए गुजरात एसओजी की टीम श्रीडूंगरगढ़ पहुंची और उन विद्युत उपभोक्ताओं से पूछताछ की। पूछताछ में पता चला कि इन उपभोक्ताओं ने अपना बिल श्रीडूंगरगढ़ कस्बे के घुमचक्कर रोड़ पर अपने ही घर मे ईमित्र का काम करने वाले आमीन छिम्पा के पास अपने बिल जमा करवाये थे। और आमीन ने ज्यादा कमीशन रखने के चक्कर मे पैसा विद्युत विभाग के खाते में जमा करवाने के बजाय ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले अपराधियों के खाते में कमीशन काट कर जमा करवा दिए। झारखंड में बैठे इन अपराधियों ने अपने वॉलेट से विद्युत विभाग के खाते में पैसे ट्रांसफर किये थे। ऐसा करके आमीन छिम्पा उन अपराधियो के ई वॉलेट के पैसों को नकद में बदलने में सहयोग कर रहा था और इसके एवज में कमीशन कमा रहा था। ऐसे में उपभोक्ताओं के बिल समय पर ही भरे जाने के कारण स्थानीय स्तर पर किसी को कोई शक भी नही हुवा ओर ना ही किसी ने शिकायत की। अब गुजरात एसओजी द्वारा मामले कि परत खुलने पर सब हैरान हैं। गुजरात एसओजी आमीन छिम्पा को गिरफ्तार कर अपने साथ ले गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!