July 13, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 10 फरवरी 2023, आपने कई बार सुना या पढ़ा होगा कि दिन का पहला मील यानी सुबह का नाश्ता हमेशा हेवी करना चाहिए। इससे आपके शरीर में दिनभर के लिए ऊर्जा रहती है। यही वजह है कि कई लोग सुबह-सवेरे हेवी मील ले लेते हैं. कई लोग भर पेट चावल खा लेते हैं। खासतौर पर भारत के कई ऐसे राज्य हैं, जहां सुबह नाश्ते में चावल खाए जाते हैं। यहां तक कि जापान, चीन जैसे देशों में भी यही परंपरा है। हालांकि, क्या आपने कभी सोचा है कि सुबह चावल खाना सेहत के लिए वाकई अच्छा होता है या नहीं?

ऊर्जा का खज़ाना होता है चावल

चावल से लोगों को खास लगाव होता है, नाश्ता तो छोड़िए वे अगर खाने में चावल न खाएं, तो वह मील उनके लिए अधूरा होता है। यानी चावल खाए बिना दिल नहीं भरता। हालांकि, हेल्थ एक्सपर्ट्स मानते हैं कि रोज़ चावल खाने वालों को घबराने की ज़रूरत नहीं है। चावल में कार्ब्स होते हैं, जो ऊर्जा से भरे होते हैं। चावल को अगर मटर, बीन्स, पालक या फिर कद्दू, गाजर आदि जैसी सब्ज़ियों के साथ खाया जाए, तो इनके पोषक तत्व बढ़ जाते हैं। चावल चाहे किसी भी रंग का हो, उसमें पोषण भरपूर होता है और फोलेट की मात्रा भी अच्छी होती है। कम शब्दों में कहा जाए, तो चावल पोषक तत्वों से भरा होता है और यह एक कम्प्लीट मील माना जाता है।

दिन के किस समय चावल खाना बेस्ट होता है?

हेल्थ एक्सपर्ट्स मानते हैं कि कार्ब्स का सेवन सुबह या फिर दिन के समय करना ही सही होता है। उनकी उस समय आपका शरीर सबसे ज़्यादा एक्टिव होता है और आपको एनर्जी की भी ज़रूरत होती है। जो लोग वज़न को कंट्रोल करना चाह रहे हैं या फिर डायबिटीज़ से जूझ रहे हैं, उनके लिए चावल सुबह खाना मददगार साबित हो सकता है, क्योंकि इससे ब्लड शुगर के स्तर में अचानक बढ़ौतरी नहीं होगी। लेकिन इसका सेवन करते समय इसकी मात्रा पर ध्यान देना ज़रूरी है। चावल खाएं, लेकिन इसे एक संतुलित डाइट का हिस्सा बनाएं। रात के खाने के समय चावल न खाएं तो बेहतर है। रात में चावल खा लेने से आप रातभर हेवी महसूस करेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!