May 23, 2024

श्रीडूंगरगढ टाइम्स 4 मार्च 2020। भूखे रहने से सीखने और काम करने पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और यहां तक कि अवसाद भी हो सकता है। कई लोग अब भी सोचते हैं कि भूखे पेट सोने जाना एक अच्छा विचार है, क्योंकि इससे वजन कम करने में मदद मिल सकती है। लेकिन विज्ञान ने इसे गलत साबित कर दिया है और यहां तक कि भूखे रहने से अधिक दुष्प्रभाव दिखा है।

www.myupchar.com से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के मुताबिक खाली पेट सोने की बजाए रात में जल्दी सोने के लिए कुछ उपाय भी कर सकते हैं। उनके लिए बेहतरीन खाद्य पदार्थ हैं, जिनका सेवन कर सकते हैं। ये खाद्य पदार्थ जल्दी सोने में मदद करेंगे और अच्छी नींद आएगी। सोने से पहले चेरी, दूध, केला, बादाम, उबला अंडा, सलाद के पत्ते, हर्बल टी आदि का सेवन कर सकते हैं। रात को सोने के कुछ घंटे पहले इन खाद्य पदार्थों को खाएं। लेकिन अगर कोई सोच रहा है कि खाली पेट सोना ज्यादा बेहतर होगा तो ऐसा नहीं है। भूखे पेट सोने के पांच नुकसान हैं-

बढ़ेगा वजन
अगर रात का डिनर वजन कम करने के लिए छोड़ा जा रहा है तो इससे फायदा होने की बजाए नुकसान ही होगा। खाली पेट सोने से भूख ज्यादा लगेगी और जब आप सुबह खाएंगे तो ओवरईटिंग के शिकार हो जाएंगे। भूख में बढ़ोतरी होने से शुगर का लेवर गिर जाता है। यह मेटाबॉलिज्म को प्रभावित करता है। इससे वजन बढ़ता है।

ऊर्जा की कमी
यदि भोजन नहीं करते हैं तो दिन के समय सक्रिय रहने के लिए कोई ‘ईंधन’ नहीं होता है। यह एक पुराना नियम है। सुबह अच्छा महसूस करना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि काम पर जाने की जरूरत होती है और मस्तिष्क को इसके लिए सक्रिय रखने की आवश्यकता होती है। भूखे रहने के कई दुष्प्रभाव हो सकते हैं। अगर रात को सोने से पहले भूखे रहने का फैसला लेते हैं और ऊर्जा की कमी व बुरे मूड के साथ जागते हैं तो यह काम के समय हानिकारक हो सकता है।

बिगड़ेगी नींद
कई लोगों ने भूखे पेट सोने का अनुभव किया होगा कि ऐसी स्थिति में पेट फूल रहा है और एकमात्र विचार दिमाग में चलता है क्या नाश्ते तक सह सकेंगे। इस स्थिति में, सोते समय अधिक समय लगता है, इसलिए यदि अच्छी नींद लेना चाहते हैं, तो खुद को भूखा न रखें।

गुस्सा और चिड़चिड़ापन
खाली पेट सोने से मूड में बदलाव देखने को मिलता है। हर समय गुस्सा और चिड़चिड़ापन रहता है। डिनर करके नहीं सोने पर मूड स्विंग्स की संभावना रहती है।

मसल्स खो देंगे
जो लोग मसल्स बनाने की कोशिश कर रहे हैं, उनके लिए भूखे रहना एक बुरा विकल्प है। रात का खाना छोड़ सकते हैं, लेकिन प्रोटीन को मांसपेशियों में बदलने के लिए आपको पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। देर रात की क्रेविंग को छोड़ना अच्छा है, लेकिन अपने शरीर को तनाव न दें  क्योंकि यह हमेशा शाम के समय और रात को भूखा रहने वाला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!