February 29, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 6 दिसम्बर 2020। बाबा साहब के विचारों से आज भी लाखों युवाओं व समाजसेवियों को प्रेरणा मिल रही है तथा बाबा साहब ने गरीब, किसान, मजदूर व महिला के हितों के लिए देश में जो क्रांति की उससे आज भी मानवता की रक्षा हो रही है। बाबा साहब ने संपूर्ण जीवन पतितों के उत्थान में संघर्ष करते हुए व्यतीत किया जिसकी अलख आज समाज मे नजर आने लगी है। ये विचार विधायक गिरधारी लाल महिया ने गांव दुलचासर में अंबेडकर युवा मंडल द्वारा आयोजित परिनिर्वाण दिवस पर व्यक्त किए। आयोजन की अध्यक्षता जेठाराम सांडेला ने की और समाज में अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने की प्रेरणा ग्रामीणों को दी। कार्यक्रम का प्रारम्भ बाबा साहब को पुष्पाजंलि देने के साथ हुआ। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि कमल बापेऊ ने बाबा साहब के जीवन के प्रेरणीय प्रसंग सुनाएं व युवाओं को सम्मान के साथ जीने की बात कही। सोहन लाल महिया ने बताया कि सामाजिक कुरीतियों को समाप्त कर शिक्षा का उजाला हर घर तक पहुंचाने का बाबा साहब का स्वप्न पूरा करने युवाशक्ति आगे आएं। मंच संचालन करते हुए बाबूलाल मेघवाल ने बाबा साहब के जीवन के बारे में विस्तार से बताया। यहां से अतिथियों ने डॉ. अम्बेडकर सामुदायिक समृति भवन श्रीडूंगरगढ़ पहुंचकर बाबा साहब को याद किया व श्रद्धा सुमन अर्पित किए। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में बाबा साहब के अनुयायियों ने भाग लिया।

“एबीवीपी ने सामाजिक समरसता दिवस मनाया।”
श्रीडूंगरगढ टाइम्स। श्रीडूंगरगढ़ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने संविधान निर्माता भीमराव अम्बेडकर की पुण्यतिथि सामाजिक समरसता दिवस के रूप में मनाई। विद्यार्थी परिषद के जिला सहसंयोजक महेन्द्र राजपूत ने कहा कि बाबा साहब देश के लिए केवल संविधान निर्माता नहीं बल्कि समाज निर्माता है। इस दौरान युवा कार्यकर्ता ओमसिंह राजपुरोहित, किशन पुरी, नरेश पुरी, दीपांशु जाजीवाल, यादरत्न घोटिया, पवन बारूपाल सहित अनेक कार्यकर्ताओं ने बाबा साहब को श्रद्धाजंलि अर्पित की व सभी ने बाबा के दिखाए मार्ग पर चल कर देश हित में कार्य करने का प्रण लिया।
“गांव ठुकरियासर में बाबा साहब को याद किया।”
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। आज गांव ठुकरियासर में सरपंच अमराराम गांधी, पूर्व सरपंच लालचंद नाई, पेमाराम सारण, वार्ड पंच हिराराम मेघवाल, कुम्भाराम, पेमाराम सारण, सरस सेना अध्यक्ष हनुमान सिंह गोदारा ने बाबा साहब को श्रद्धा सुमन अर्पित किए। सरपंच अमराराम ने कहा कि दलितों और पिछड़ों की आवाज़ बनकर, भारतीय संविधान के माध्यम से उनके अधिकारों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने वाले भारत रत्न ‘बाबा साहेब’ डॉ. भीमराव अंबेडकर समाज में सदैव पूज्य रहेंगे। कार्यक्रम में बाबा साहब के सामाजिक योगदान पर चर्चा की गई व सामाजिक समरसता की बात वक्ताओं द्वारा कही गई।
“वाल्मीकि भवन श्रीडूंगरगढ़ में मनाया महापरिनिर्वाण दिवस।”
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। वाल्मीकि भवन वाल्मीकि बस्ती श्रीडूंगरगढ़ में आरएसएस ने बाबा साहब का महापरिनिर्वाण दिवस मनाया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता आरएसएस के जिला प्रचारक कमल सिंह थे। सिंह ने बाबा साहब की जीवनी पर प्रकाश डाला व संविधान में निर्माता के रूप में उनके योगदान पर बताया। सिंह ने कहा कि बाबा साहब ने जीवन पर्यंत प्रयास किया कि भारत देश में सामाजिक समरसता बनी रहें व सामाजिक विकास हो सकें। कार्यक्रम में निर्मल वाल्मीकि, प्रकाश मलघट, मूलचंद पालीवाल ने भी विचार व्यक्त किए।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। वाल्मीकि भवन श्रीडूंगरगढ़ में आरएसएस ने बाबा साहब को श्रद्धांजलि दी।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। गांव ठुकरियासर में भी बाबा साहब को श्रद्धांजलि देकर नमन किया।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। एबीवीपी के युवाओं ने बाबा साहब को नमन करते हुए सामाजिक समरसता दिवस मनाया।
श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। दुलचासर में अतिथियों ने बाबा साहब से प्रेरणा लेने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!