April 25, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 17 जून 2020। इन दिनों वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से बचने को लेकर जब लोग अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्युनिटी) बढ़ाने को लेकर तरह-तरह का प्रयास कर रहे हैं वहीं विशेषज्ञों की राय में बादाम का सेवन इसमें कारगर एवं अहम भूमिका निभा सकता है।

विशेषज्ञों के मुताबिक आपकी डाइट में छोटे लेकिन असरदार बदलाव करने से संपूर्ण स्वास्थ्य के निमार्ण और आपके योग की दिनचयार् मे बड़ी मदद मिल सकती है। आपके आहार में कुछ बादाम शामिल करना एक अच्छा तरीका हो सकता है क्योंकि यह एक पौष्टिक स्नैक्स का विकल्प है और उन्हें नियमित रुप से खाना आपके संपूर्ण स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। इसके साथ ही बादाम में कई प्रकार के पोषक तत्व जैसे विटामिन बी2, मैग्नेशियम, फॉस्फोरस प्रचुर मात्रा में होते हैं जिससे एक स्वस्थ जीवनशैली अपनाने में मदद मिल सकती है।

बॉलीवुड अभिनेत्री सोहा अली खान  का कहना है कि योग मेरी सबसे पसंदीदा एक्सरसाइज है – क्योंकि इसका शरीर के साथ ही दिमाग पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। मैं योग के साथ डाइट में बादाम भी लेती हूं। बादाम को सात्विक आहार माना जाता है और यह प्रोटीन, विटामिन ई, मैग्नेशियम इत्यादि जैसे 15 प्रमुख पोषक तत्वों का स्रोत है। इसके अलावा बादाम ऊर्जा प्रदान करते हैं और आयुवेर्द के अनुसार इससे शरीर के सभी ऊतकों की टोनिंग में मदद होती है।

सुपर मॉडल मिलिंद सोमण कहा कहना है कि मैं अपूर्ण या तले हुए स्नैक्स की बजाय स्वस्थ खाने की चीजें जैसे बादाम को स्नैक्स के तौर पर खाना पसंद करता हूं। बादाम हल्के होते हैं और इन्हें आसानी से ले जाया जा सकता है जिसकी वजह यह भोजन के बीच के समय में स्नैक्स के तौर पर सेवन के लिए ज़बरदस्त होते हैं।

डायबिटीज़ जैसे रोगों से पीड़ति लोगों के बारे में विशेष तौर पर बात करते हुए और किस तरह योग और पोषण से भरपूर डाइट को शामिल करना मददगार हो सकता है, मैक्स हेल्थकेयर दिल्ली की डाएटेटिक्स की रीजनल हेड रितिका समद्दर ने कहा, “जर्नल ऑफ क्लिनिकल एंड डायग्नोस्टिक रिसर्च  में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार टाइप 2 डायबिटीज़ के मरीजों के लिए योग स्वागत योग्य है। एक समग्र सेहतमंद व्यवस्था तैयार करने के लिए मैं निश्चित रुप से योग के साथ बादाम की रोज़ाना खुराक शामिल करने की सलाह देती हूँ। शोध के दौरान यह पाया गया है कि बादाम, जो प्रोटीन और फाइबर के स्रोत हैं, से स्वस्थ ब्लड शुगर लेवल बनाए रखने में, टाइप 2 डायबिटीज़ से पीड़ति लोगों में ब्लड शुगर नियंत्रण सुधार में और फास्टिंग इन्सुलिन लेवल  को प्रभावित करने वाले काबोर्हाइड्रेट खाद्य पदार्थों के ब्लड शुगर पर असर को कम करने में मदद मिल सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!