श्रीडूंगरगढ़ में रिश्वतखोर बाबू पकड़ा।

फोटो- भ्रष्टाचार का आरोपी बाबू ओमप्रकाश मीणा, कुर्सी पर सफेद शर्ट में।

श्रीडूंगरगढ टाइम्स 30 मई, 2019। नगरपालिका में भ्रष्टाचार का मामला अभी थमा ही नहीं की आज विद्युत विभाग का तकनीकी कर्मचारी जिसे बाबू का कार्यभार सौंपा हुआ है वह रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो चूरू के अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक आंनद कुमार स्वामी ने बताया कि आरोपी बाबू ओमप्रकाश मीणा ने एक पेट्रोल पम्प के कनेक्नशन हेतु डिमांड नोटिस एक्सईएन से स्वीकृत करवाने के लिए पीड़ित से 8000 रूपये रिश्वत की मांग की। शिकायत का सत्यापन करते हुए गुरूवार को दोपहर उसे रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया। क्षेत्र की जनता आज यहां के प्रशासन को प्रशासनिक तंत्र के स्थान पर भ्रष्ट तंत्र नाम दिए जाने की बात कर रही है। एक ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भ्रष्टाचार मुक्त भारत बनाने की बात कर रहे है दूसरी ओर श्रीडूंगरगढ़ में भ्रष्टाचार के मामले थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। चुरू एसीबी ने कार्यवाही करते हुए बाबू को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया क्योंकि कई दिनो से एसीबी को यहां धांधलियों की शिकायत मिल रही थी। आज शिकायतकर्ता के साथ एसीबी एक्सईएन ऑफिस पहुंची व कार्यवाही को अंजाम दिया।