July 24, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 21 अगस्त 2023,🚩श्री गणेशाय नम:🚩 शास्त्रों के अनुसार तिथि के पठन और श्रवण से माँ लक्ष्मी की कृपा मिलती है ।
वार के पठन और श्रवण से आयु में वृद्धि होती है।
नक्षत्र के पठन और श्रवण से पापो का नाश होता है।
योग के पठन और श्रवण से प्रियजनों का प्रेम मिलता है। उनसे वियोग नहीं होता है ।
*करण के पठन श्रवण से सभी तरह की मनोकामनाओं की पूर्ति होती है ।
इसलिए हर मनुष्य को जीवन में शुभ फलो की प्राप्ति के लिए नित्य पंचांग को देखना, पढ़ना चाहिए ।

📜 आज का पंचांग 📜

☀ 21 – Aug – 2023
☀ Sri Dungargarh, India

☀ पंचांग
🔅 तिथि पंचमी +02:02 AM
🔅 नक्षत्र चित्रा पूर्ण रात्रि
🔅 करण :
बव 01:16 PM
बालव 01:16 PM
🔅 पक्ष शुक्ल
🔅 योग शुभ 10:20 PM
🔅 वार सोमवार

☀ सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ
🔅 सूर्योदय 06:06 AM
🔅 चन्द्रोदय 10:09 AM
🔅 चन्द्र राशि कन्या
🔅 सूर्यास्त 07:07 PM
🔅 चन्द्रास्त 09:49 PM
🔅 ऋतु वर्षा

☀ हिन्दू मास एवं वर्ष
🔅 शक सम्वत 1945 शोभकृत
🔅 कलि सम्वत 5125
🔅 दिन काल 01:00 PM
🔅 विक्रम सम्वत 2080
🔅 मास अमांत श्रावण
🔅 मास पूर्णिमांत श्रावण

☀ शुभ और अशुभ समय
☀ शुभ समय
🔅 अभिजित 12:10:56 – 13:02:59
☀ अशुभ समय
🔅 दुष्टमुहूर्त 01:02 PM – 01:55 PM
🔅 कंटक 08:42 AM – 09:34 AM
🔅 यमघण्ट 12:10 PM – 01:02 PM
🔅 राहु काल 07:44 AM – 09:21 AM
🔅 कुलिक 03:39 PM – 04:31 PM
🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 10:26 AM – 11:18 AM
🔅 यमगण्ड 10:59 AM – 12:36 PM
🔅 गुलिक काल 02:14 PM – 03:52 PM
☀ दिशा शूल
🔅 दिशा शूल पूर्व

☀ चन्द्रबल और ताराबल
☀ ताराबल
🔅 भरणी, रोहिणी, मृगशिरा, आर्द्रा, पुनर्वसु, आश्लेषा, पूर्वा फाल्गुनी, हस्त, चित्रा, स्वाति, विशाखा, ज्येष्ठा, पूर्वाषाढ़ा, श्रवण, धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, रेवती
☀ चन्द्रबल
🔅 मेष, कर्क, कन्या, वृश्चिक, धनु, मीन

📜 चोघडिया 📜

🔅अमृत 06:06:37 – 07:44:12
🔅काल 07:44:12 – 09:21:47
🔅शुभ 09:21:47 – 10:59:22
🔅रोग 10:59:22 – 12:36:58
🔅उद्वेग 12:36:58 – 14:14:33
🔅चल 14:14:33 – 15:52:08
🔅लाभ 15:52:08 – 17:29:43
🔅अमृत 17:29:43 – 19:07:19
🔅चल 19:07:19 – 20:29:47
🔅रोग 20:29:47 – 21:52:16
🔅काल 21:52:16 – 23:14:44
🔅लाभ 23:14:44 – 24:37:13
🔅उद्वेग 24:37:13 – 25:59:42
🔅शुभ 25:59:42 – 27:22:10
🔅अमृत 27:22:10 – 28:44:39
🔅चल 28:44:39 – 30:07:07
❄️ लग्न तालिका ❄️

🔅 सिंह स्थिर
शुरू: 05:53 AM समाप्त: 08:10 AM

🔅 कन्या द्विस्वाभाव
शुरू: 08:10 AM समाप्त: 10:26 AM

🔅 तुला चर
शुरू: 10:26 AM समाप्त: 12:45 PM

🔅 वृश्चिक स्थिर
शुरू: 12:45 PM समाप्त: 03:04 PM

🔅 धनु द्विस्वाभाव
शुरू: 03:04 PM समाप्त: 05:08 PM

🔅 मकर चर
शुरू: 05:08 PM समाप्त: 06:51 PM

🔅 कुम्भ स्थिर
शुरू: 06:51 PM समाप्त: 08:20 PM

🔅 मीन द्विस्वाभाव
शुरू: 08:20 PM समाप्त: 09:46 PM

🔅 मेष चर
शुरू: 09:46 PM समाप्त: 11:22 PM

🔅 वृषभ स्थिर
शुरू: 11:22 PM समाप्त: अगले दिन 01:18 AM

🔅 मिथुन द्विस्वाभाव
शुरू: अगले दिन 01:18 AM समाप्त: अगले दिन 03:33 AM

🔅 कर्क चर
शुरू: अगले दिन 03:33 AM समाप्त: अगले दिन 05:53 AM

🌺।। आज का दिन मंगलमय हो।।🌺

सोमवार के दिन भगवान शंकर की आराधना, अभिषेक करने से चन्द्रमा मजबूत होता है, काल सर्प दोष का प्रभाव कम होता है।
सोमवार का व्रत रखने से मनचाहा जीवन साथी मिलता है, वैवाहिक जीवन में लम्बा और सुखमय होता है।

जीवन में शुभ फलो की प्राप्ति के लिए हर सोमवार को शिवलिंग पर पंचामृत या मीठा कच्चा दूध एवं काले तिल चढ़ाएं, इससे भगवान महादेव की कृपा बनी रहती है परिवार से रोग दूर रहते है।

सोमवार के दिन शिव पुराण के अचूक मन्त्र “श्री शिवाय नमस्तुभ्यम्’ का अधिक से अधिक जाप करने से समस्त कष्ट दूर होते है. निश्चित ही मनवाँछित लाभ मिलता है।

⭐ नागपंचमी

पण्डित विष्णुदत्त शास्त्री
8290814026

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!