July 13, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 1 सितम्बर 2019। जहां हाथ रखा वहीं दर्द की आह सुनी, कुछ ऐसा ही हुआ रविवार को भाजपा के विधानसभा चुनाव प्रत्याशी ताराचंद सारस्वत के साथ, जब जीएसएस शिलान्यास विवाद में ग्रामीणों से मिलने के लिए गांव लोडेरा पहुंचे। सारस्वत के पहुंचने पर ग्रामीणों ने खुल कर अपना दर्द बताया एवं राजनैतिक दबाव में निगम द्वारा किए जा रहे पूरे गांव के साथ हो रहे अन्याय की जानकारी दी।

राज का फायदा उठा रहे कुछ लोगों पर जमकर आरोप लगाए। ग्रामीण आशाराम गोदारा, तोलाराम गोदारा, रेवंतराम गोदारा, गणेशाराम गोदारा, रामकरण सिहाग, पेमाराम मेघवाल, सुरजाराम नायक आदि ने सारस्वत को पूर्व में स्वीकृत एवं चिन्ह्ति भूमि पर जीएसएस की फाइल दिखाई एवं निगम की मांग पर ग्रामीणों द्वारा एक बीघा भूमि दान देने की बात कही। निगम द्वारा एमओयू करने, जीएसएस हेतु निगम अभियंताओं द्वारा एस्टीमेंट तैयार करने एवं फाईल पूरी होने पर उच्चाधिकारियों तक कार्यादेश लेने तक की कार्यवाही होने के बाद भी केवल राजनैतिक फायदे के लिए पूरे गांव के लिए उपयुक्त भूमि के बजाए गांव से करीब एक किलोमीटर दूर एकदम कच्चे रास्ते में ऊर्जा मंत्री बी.डी. कल्ला एवं कांग्रेस प्रदेश महासचिव मंगलाराम गोदारा द्वारा शनिवार को जीएसएस का शिलान्यास करने की बात कही। ग्रामीणों ने एक स्वर में अपनी बात कही तो हर कंठ से हो रहे अन्याय का दर्द झलका। ग्रामीण यह दर्द लेकर सोमवार को केन्द्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल के पास भी जाएगें।
आप भी देखें विडियो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!