April 25, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 27 फरवरी 2021। श्रीडूंगरगढ़ अनाज मंडी व्यापार संघ ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन देकर केंद्र सरकार द्वारा नए कृषि कानूनों में मंडियों को बर्बाद करने व व्यापार चौपट करने की व्यवस्था से मंडी व्यापार को बचाने की गुहार गहलोत सरकार से की है। व्यापारियों ने मुख्यमंत्री से आढ़त 2.25 रूपए प्रति सैंकड़ा रखते हुए कृषि उपज मंडी शुल्क घटाकर 50 पैसे प्रति सैंकड़ा करने व किसान कल्याण शुल्क को पूर्णतया समाप्त करने की मांग की है। संघ के अध्यक्ष श्यामसुदंर पारीक ने बताया कि पड़ौसी राज्य हरियाणा पंजाब में पहले से ही कृषि आढ़त 2.50 रूपए प्रति सैंकड़ा है वहां पर कृषि उपज शुल्क घटाया गया है। उन्होंने कहा कि किसान कल्याण सेस को पूर्णतया समाप्त किया जाए ताकि कृषि उपज मंडियों का व्यापार जीवित रह सकें। पारीक ने कहा कि राज्य सरकार नए कृषि कानूनों से राहत देते हुए कृषि उपज मंडी शुल्क 50 पैसे किए जाए जिससे मंडी में व्यापार किया जा सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!