March 1, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 3 जून 2021। राजस्थान में तीसरी लहर की आहट, विशेषज्ञों का कहना है कभी भी आ सकती है तीसरी लहर, बच्चों के लिए घातक होगी तीसरी लहर, ये बातें आजकल हम सब रोजाना देख सुन और पढ़ रहें है। अब दूसरा दृश्य देखें जहां एक ओर जिला प्रशासन तीसरी लहर से निपटने की तैयारियां में जुटा है, ब्लॉक स्तर पर बच्चों के लिए ईलाज की व्यवस्था के निर्देश दिए जिलाकलेक्टर ने, चिकित्सा विभाग कर रहा है टीका लगवाने की अपील, की गूंज सुनाई दे रही है और दूसरी ओर है श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र का जहां टीकाकरण शर्मनाक दौर से गुजर रहा है। आज क्षेत्र में 4 स्थानों पर टीकाकरण किया गया और टीके लगे गांव सुरजनसर में 0, मोमासर में 8, श्रीडूंगरगढ़ सीएचसी 4 व यूपीएचसी 27 डोज लगी। बुधवार को श्रीडूंगरगढ़ सीएचसी पर कुल 7 टीके लगे। ऐसे में चिकित्सा विभाग के साथ जिम्मेदार नागरिक परेशान हो उठे है। जिलाकलेक्टर नमित मेहता ने आज शाम कोविड सम्बंधित बैठक ली और मेहता ने कहा कि पूरे जिले में 45 प्लस एक भी नागरिक टीकाकरण से वंचित नहीं रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों को अभियान से जोड़ा जाए और वैक्सिनेशन शत प्रतिशत किया जाए। क्षेत्र में समय की मांग है कि टीकाकरण के लिए राजनीति को बीच में नहीं घसीट कर नागरिकों की सुरक्षा को प्रथम माने और सभी एकजुटता का परिचय देकर तीसरी लहर से सुरक्षा की जिम्मेदारी उठाएं। क्षेत्र में दूसरी लहर ने जो घाव दिए है वे अभी हरे है और वैक्सीन नहीं लगवाने की लापरवाही हमें फिर से मुश्किल स्थितियों में डाल सकती है क्योंकि तीसरी लहर बच्चों पर भारी होगी। चिकित्सा विभाग के प्रमुख डॉ. संतोष आर्य ने बताया कि वैक्सीनेटेड लोग ही तीसरी लहर से अपने परिवारों को सुरक्षित रखने में कामयाब होंगे। आर्य ने कहा कि कोरोना को रोकने का एकमात्र विकल्प वैक्सीन लगवाना ही है। अब केवल क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों की बात नहीं अब जरूरत है सभी सामाजिक कार्यकर्ता भी एकजुट हो और 45 प्लस का वैक्सिनेशन सुनिश्चित करने के लिए अपनी भागीदारी निभाए। श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स भी अपनी सामाजिक जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करने वाले जनप्रतिनिधि या समाजसेवी अपने प्रयास हमें जरूर बताएं जिससे श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स उनके प्रयास का उल्लेख किया जा सकें। जिससे सभी नागरिक भी जान सकें की कोरोना महामारी के संकटकाल में इन्होंने अपने गांव, अपने वार्ड, अपनी बस्ती के नागरिकों को सुरक्षित करने के लिए जागरूकता के प्रयास किए है।

वेक्सिनेशन के लिए अब आगे आए।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। प्राप्त जानकारी के अनुसार क्षेत्र जिन समाजों के नागरिक अभी तक टीकाकरण करवाने नहींं पहुंच रहें है वे समाज सजगता से ध्यान देवें की ये अल्प रुचि खतरा बन सकती है और ऐसे में जरूरी है सभी समाजों के जागरूक युवा व समाजसेवी, जनप्रतिनिधि आगे आए व नागरिकों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें। बता देवें की विशेषज्ञों ने कह दिया है कि वैक्सिनेशन नहीं तो सुरक्षा नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!