May 23, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 6 जुलाई 2019। विद्युत विभाग द्वारा क्षेत्रवासियों की जान के साथ कितना खिलवाड़ किया जा रहा है इसका प्रत्यक्ष प्रमाण तहसील के गांव समंदसर में शुक्रवार रात को दिखा। समंदसर गांव में शुक्रवार रात्री को विद्युत पोल में दौड़ रहे करंट की चपेट में आने के कारण दो गायों की मौके पर ही तड़प तड़प कर मृत्यू हो गई। ग्रामीणों ने तुरंत जीएसएस पर संविदा कार्मिक के रूप में नियुक्त अप्रशिक्षित कर्मचारी को फोन किया एवं सप्लाई बंद करवाई। सप्लाई बंद करवाने के बाद ग्रामीण गायों के शव विद्युत पोल से दुर करने लगे तभी विद्युत सप्लाई पुन: शुरू हो गई। ग्रामीण उझल कर दुर हो गए वरना इंसानी मौत का कारण बनने वाला बड़ा हादसा शुक्रवार रात्री को गांव समंदसर में हो जाता। ग्रामीणों ने तुरंत पुन: जीएसएस पर नियुक्त कर्मचारियों को पुन: फोन किया तो जवाब मिला कि सप्लाई शुरू नहीं की, बल्कि अपने आप ही शुरू हो गई। कर्मचारी द्वारा ऐसे गैरजिम्मेवार पूर्ण जवाब देने से आक्रोशित ग्रामीणों ने रात को ही घटनास्थल पर धरना लगा दिया एवं जेईएन व एईएन को फोन किए। लेकिन रात होने के कारण कोई भी मौके पर नही पहुंचा। ग्रामीणों को भय था कि कार्मिक की गैरजिम्मेवारी के कारण पुन: पोलों में करंट दौड़ जाए एवं कोई और उसकी चपेट में नहीं आए। इसलिए ग्रामीण पुरी रात गलियों में ही बैठे रहे। ग्रामीणों में फैले आक्रोश को देखते हुए निगम अभियंता शनिवार सुबह भी गांव नहीं पहुंचे तो ग्रामीण शेरूणा थाने पहुंच गए एवं थाने का घेराव कर दोषी कार्मिकों, अभियंताओं के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तारी की मांग की। हालांकी इस संबध में अभी ग्रामीणों से समझाईश चल रही है एवं मामला दर्ज नही हुआ है। बीकानेर डूंगर कालेज के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष एवं गांव के युवा नेता मांगीलाल गोदारा ने बताया कि निगम द्वारा लगातार ऐसी लापरवाही बरती जा रही है एवं इस कारण पुरे गांव में हर समय हादसे का भय रहता है।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। हादसे के बाद गांव की गली में ही धरना लगा कर पुन: हादसे से बचाव के लिए ग्रामीणों ने पुरी रात निकाली आंखों में, सुबह पहुंचें थाने।

कल ही दी थी परिवाद।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। शुक्रवार को श्रीडूंगरगढ़ में आयोजित जनसुनवाई मे क्षेत्रवासियों की सामूहिक आवाज बन कर गुंजने वाली विद्युत पोलों मे करंट की समस्या के समाधान के लिए भले ही जिला कलेक्टर ने विद्युत निगम को ग्रामपंचायत वार कैम्प कर समस्या समाधान के निर्देश दिए हो लेकिन यह कैम्प कब लगेगें एवं उन कैम्पों के लगने तक क्षेत्र में ना जाने कितने मासुम इंसान व पशु विद्युत विभाग की बली चढ़ते रहेगें यह सवाल हर किसी के मन में यक्ष प्रश्न की तरह खड़ा है। और क्षेत्र का दुर्भाग्य है कि क्षेत्र में लगातार हो रही विद्युत करंट से मौतों के बाद भी इस सवाल का जवाब किसी के पास नहीं है। समंदसर के ग्रामीणों ने भी शुक्रवार को जनसुनवाई में अपनी परिवाद लगाई थी एवं जीएसएस पर अप्रशिक्षित व्यक्ति को संविदा पर लगाने का आरोप लगाते हुए विभागीय कर्मचारी नियुक्त करने की मांग की थी। लेकिन इस परिवाद का निस्तारण हो या ना हो गांव में एक और दुर्घटना हो गई व समस्त ग्रामीण बड़े हादसें के डर में जी रहे है।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। शुक्रवार रात्री को गांव समंदसर में करंट की चपेट में आने से अकाल मृत्यू की शिकार बनी गौमाता।

श्रीडूंगरगढ की विश्वसनीय व प्रमाणित खबरों के लिए जुड़े श्रीडूंगरगढ टाइम्स से।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स की खबरें अपने मोबाईल में सीधे प्राप्त करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें https://chat.whatsapp.com/K6dYSQW23IiHbg1Qj2aZsH

हमारे वाटसएप ग्रुप से जुड़ने के लिए हमे वाटसएप करें- 94149-17401

और हमारें फेसबुक पेज को लाइक करें- https://www.facebook.com/sridungargarhtimesnews/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!