श्रीडूंगरगढ में पंजाब, हरियाणा के 36 मजदूरों को पकड़ा, नानुदेवी स्कूल में किया आइसोलेट।




श्रीडूंगरगढ टाइम्स 6 अप्रैल 2020। बाहर से श्रीडूंगरगढ में कृषि कुओं पर कार्य हेतु आए मजदूरों का अब यहां से पलायन रोकना प्रशासन के लिए सिरदर्द बन गया है। तमाम सख्तियों के बावजुद लोग अपने घरों के लिए पैदल ही रवाना हो रहे है और लॉकडाउन का पालन न करते हुए उसे तोड़ रहें है। काम नही मिलने पर ये मजदूर बिना किसी की परवाह करते हुए अपने अपने गांवों के लिए पैदल ही रवाना हो रहे है। ऐसे में इन मजदूरों को रोकने के लिए प्रसाशन को मशक्कत करनी पड़ रही है। तहसील के शेरुणा थानाक्षेत्र से रविवार रात को रवाना हुए इसे मजदूरों को आइसोलेट प्रशासन द्वारा किया जा रहा है। सेरूणा थाना क्षेत्र से रविवार को पैदल ही हरियाणा व पंजाब के लिए रवाना हुए तीन दर्जन लोगों को आइसोलेट करने की व्यवस्था शेरुणा में नही हों पाने के कारण प्रसाशन ने इन्हें श्रीडूंगरगढ़ तक आने दिया और यहां पहुंचने पर श्रीडूंगरगढ थानाधिकारी सत्यनारायण गोदारा ने सोमवार सुबह इन्हें नानुदेवी स्कूल में आइसोलेट करवाया है। नानूदेवी स्कूल में इनके रहने व खाने की सुविधाऐं करवाई गयी है। ज्ञात रहें की जिले की सिमाऐं सील होने के कारण इन्हें यहां से जाने देने का रिस्क भी प्रशासन द्वारा नहीं लिया जा सकता है।