April 25, 2024

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स 1 मार्च 2021। श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र में हंसोजी महाराज की तपोस्थली लिखमादेसर के ग्रामीणों ने गांव में ठेका नहीं खुलने देने का जबरदस्त विरोध किया और ये विरोध आंशिक सफल हुआ है। विरोध जिला स्तर पर पहुंचा तो जिला आबकारी अधिकारी ने ग्रामीणों को गांव में ठेका नहीं खोलने का आश्वासन दिया। गांव में श्रीजसनाथ नवयुवक संस्थान की अगुवाई में ग्रामीणों ने रविवार को गांव में सामूहिक बैठक की एवं सोमवार को विरोध प्रदर्शन के लिए एसडीएम कार्यालय पहुंचें। यहां पर एसडीएम ने उच्चाधिकारियों तक बात पहुंचाने व इस संबध में निर्णय उच्चाधिकारियों द्वारा ही किए जाने की बात कही तो ग्रामीणों की टोली यहां से सीधे बीकानेर पहुंच गई। ग्रामीणों ने बीकानेर पहुंच कर गांव में आबकारी द्वारा ठेका खोले जाने का पूरजोर विरोध किया व आबकारी कार्यालय व जिलाकलेक्टर कार्यालय पहुंचे। विधायक गिरधारीलाल महिया, भाजपा देहात जिलाध्यक्ष ताराचंद सारस्वत, श्रीडूंगरगढ़ के पूर्व विधायक मंगलाराम गोदारा ने, सिद्ध समाज विकास संस्थान के अध्यक्ष कुंभाराम सिद्ध ने, पंचायत समिति सदस्य सुरती देवी, सरपंच सरस्वती देवी, सिद्ध युवा महासभा के अध्यक्ष ओमप्रकाश सिद्ध आदि ने भी जिला कलेक्टर व आबकारी विभाग को पत्र लिख कर लिखमादेसर में शराब का ठेका आवंटित नहीं करने की बात कही व ग्रामीणों के विरोध को समर्थन दिया। इसके बाद जिला आबकारी अधिकारी ने गांव को आस्था का केन्द्र मानते हुए ठेका नहीं खोलने का आश्वासन दिया। इस पर ग्रामीणों ने गांव की एकता व जसनाथ महाराज के जयकारै लगाएं व अधिकारियों का आभार व्यक्त किया।

श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स। लिखमादेसर के ग्रामीण आबकारी विभाग पहुंचे व गांव में ठेका खोले जाने का जमकर विरोध किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!