दिल्ली अग्निकांड में 43 की मौत, राहत कार्य में जुटी NDRF टीम, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिए जांच के आदेश


Sridungargarhtimes:दिल्ली के रानी झांसी रोड पर अनाज मंडी स्थित एक फैक्ट्री में रविवार सुबह लगी भीषण आग में अब तक 43 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। जबकि करीब दो दर्जन से अधिक लोगों को राजधानी के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। आग इतनी भीषण थी कि मौके पर दमकल की 30 गाड़ियों को तैनात करना पड़ा। अग्निशमन विभाग के कर्मियों ने 50 से ज्यादा लोगों को बचाया है। आग में झुलसे अन्य लोगों को दिल्ली के एलएनजेपी, सफदरजंग, आरएमएल और हिंदू राव हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। फायर ब्रिगेड और दिल्ली पुलिस की टीमें अभी भी लोगों को घटना स्थल से बाहर निकालने में जुटी हुई हैं। नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स की एक टीम घटना स्थल पर पहुंच गई है। फिल्मिस्तान इलाके में ही शनिवार को प्लास्टिक की पिचकारी बनाने वाली एक फैक्ट्री में आग लगी थी। इस इलाके में 24 घंटे के अंदर आग की यह दूसरी घटना है।



दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल घटना स्थल पर पहुँचे। उन्हाेंने इस आग की घटना को भयावह बताया और हादसे की मजिस्ट्रेट से जांच कराने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने जांच रिपोर्ट एक हफ्ते में सौंपने का आदेश दिया। उन्होंने हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के लिए 10-10 लाख रुपए मुआवजे का ऐलान किया।

दिल्ली अग्निशमन सेवा के एक अधिकारी ने बताया कि आग लगने की जानकारी सुबह पांच बजकर 22 मिनट पर मिली जिसके बाद दमकल की 30 गाड़ियों को घटनास्थल पर भेजा गया। दिल्ली के डिप्टी फायर चीफ ऑफिसर सुनील चौधरी ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा, ‘आग 600 वर्ग फुट के कुल क्षेत्र में लगी। अंदर बहुत अंधेरा था। आग एक फैक्ट्री में लगी जिसमें स्कूल बैग्स, बॉटल्स और अन्य तरह की चीजें स्टोर की गईं थी।’चौधरी ने बताया कि आग पर पूरी तरह काबू पा लिया गया है। जब आग लगी उस वक्त फैक्ट्री के अंदर करीब 50 लोग मौजूद थे। यह फैक्ट्री आवासीय क्षेत्र में चलाई जा रही थी।

उत्तर पूर्व दिल्ली से भाजपा सांसद और दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने घटना स्थल का दौरा किया। उन्होंने कहा, ‘मिली जानकारी के मुताबिक आग की घटना शॉर्ट सर्किट के कारण हुई। इस घटना में जान गंवाने वाले सभी लोगों के परिवारों को भाजपा 5 5 लाख रुपए और घायलों को 25 25 हजार रुपए की सहायता राशि देगी।’

प्रधानमंत्री नेरंद्र मोदी ने इस घटना को भयावह बताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘दिल्ली के रानी झांसी रोड स्थित अनाज मंडी में लगी आग की घटना भयावह है। इस घटना में अपनी जान गंवानों वालों के प्रति मैं शोक प्रकट करता हूं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। संबंधित विभाग घटना स्थल पर हर तरह की सहायता मुहैया करा रहे हैं।’

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आग लगने की घटना पर दुख व्यक्त करते हुए मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की। राहुल गांधी ने इस घटना के बारे में कहा, ‘दिल्ली के अनाज मंडी में, भीषण आग लगने से कई लोगों की मौत और अनेक लोगों के घायल होने की खबर से आहत हूं। मृतकों के परिवारों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।’ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस घटना को बेहद दुखद बताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘सुरक्षा और बचाव कार्य जारी है, अग्निशमन विभाग के कर्मचारी अपना सर्वश्रेष्ठ दे रहे हैं। घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया है।’